Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Classic Header

{fbt_classic_header}

Breaking News

latest

स्वास्थ्य सुविधाओं को लेकर समीक्षा बैठक आयोजित एक जुलाई से शुरू हो रहे संचारी रोग ‘दस्तक’ अभियान पर हुई चर्चा

मातृ मृत्यु दर में कमी लाने के लिए जरूरी कदम उठाने के निर्देश   ग़ाज़ीपुर, 23 जून 2020 कोविड-19 के संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए स्थगित की ...


मातृ मृत्यु दर में कमी लाने के लिए जरूरी कदम उठाने के निर्देश  
ग़ाज़ीपुर, 23 जून 2020
कोविड-19 के संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए स्थगित की गईं स्वास्थ्य सेवाओं को अब धीरे-धीरे फिर से शुरू किया जा रहा है, जिसको लेकर ब्लॉक स्तर पर फील्ड कार्यकर्ताओं  की समीक्षा बैठक भी शुरू कर दी गयी है। इसी क्रम में  सोमवार को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र रेवतीपुर से संबंधीत सभी एएनएम की साप्ताहिक बैठक चिकित्साधीक्षक डॉ इमाम हुसैन की अध्यक्षता में हुई । बैठक में मातृ मृत्यु दर की समीक्षा, क्षेत्र में स्कूल न जाने वाली छात्राओं में आयरन की गोली बांटे जाने, कम वजन वाले बच्चों की  रिपोर्टिंग के साथ ही एक जुलाई से शुरू होने वाले संचारी रोग नियंत्रण ‘दस्तक’ अभियान को लेकर चर्चा हुई ।
चिकित्साधीक्षक डॉ इमाम हुसैन ने बताया कि लॉकडाउन के बाद क्षेत्र में शुरू की गईं स्वास्थ्य सुविधाएं फील्ड वर्कर के द्वारा आमजन तक पहुंचाई जा रही हैं, जिसको लेकर समीक्षा बैठक की गई। उन्होंने बताया कि रेवतीपुर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के अंतर्गत आने वाली सभी एएनएम की बैठक कर क्षेत्र में होने वाली  मातृ मृत्यु दर की गहन समीक्षा की गई और उन्हें निर्देशित किया गया कि आने वाले समय में मातृ मृत्यु दर में और कमी लायी जाए। इसके साथ ही स्कूल न जाने वाली छात्राओं को  आंगनबाड़ी कार्यकर्ता के द्वारा आयरन की गोली उनके घर  जाकर उपलब्ध कराई जाएगी। इसके साथ ही ग्राम स्वास्थ्य एवं पोषण दिवस (वीएचएनडी) सत्र की भी समीक्षा की गई जिसमें कम वजन वाले बच्चों की रिपोर्टिंग कर उन्हें जिला महिला अस्पताल में संचालित एसएनसीयू में एडमिट कराकर ट्रैकिंग करने का निर्देश दिया गया। इसके साथ ही 1 जुलाई से शुरू होने वाले संचारी रोग नियंत्रण दस्तक अभियान को लेकर चर्चा की गई जिसमें 24 आशा कार्यकर्ता व एएनएम का 20-20 का बैच बनाकर अभियान के लिए तैयार करने की रणनीति बनाई गई।
मेदनीपुर की एएनएम नेहा राय ने बताया कि बैठक में कम वजन वाले बच्चों को एसएनसीयू में भर्ती कराकर कैसे उसे ट्रैक करना है उसके बारे में बताया गया जिससे आने वाले समय में कुपोषित बच्चों की संख्या में कमी आएगी। 
पटकनिया उप केंद्र पर तैनात एएनएम सीमा सिंह ने बताया कि लॉकडाउन के बाद स्वास्थ्य विभाग के द्वारा शुरू की गई स्वास्थ्य सुविधाओं और योजनाओं को आमजन तक पहुंचाने में काफी मदद मिल रही है। 
बैठक में डॉ अमर कुमार, डॉ मनीष मिश्र, डॉ जितेंद्र कुमार, बीपीएम बबीता सिंह, एआरओ जयप्रकाश, यूनिसेफ से आशीष, इम्तियाज के साथ ही सीएचओ सुहावल, बीसीपीएम और एएनएम मौजूद रहीं।




No comments