Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Classic Header

{fbt_classic_header}

Breaking News

latest

जांच के बहाने पीड़ित से 2 वर्षो तक लगवाते रहे थाने का चक्कर,अब पीड़ित ने लगाई एसपी से गुहार।

दो वर्ष पूर्व हुई हत्या के बाद आरोपी का नाम उजागर होने के बावजूद पुलिस अभी तक हत्या आरोपी को नही कर सकी गिरफ्तार। शक के आधार पर पीड़ित न...



दो वर्ष पूर्व हुई हत्या के बाद आरोपी का नाम उजागर होने के बावजूद पुलिस अभी तक हत्या आरोपी को नही कर सकी गिरफ्तार। शक के आधार पर पीड़ित ने हत्या में शामिल होने की नामजद दी थी थाने पर तहरीर। पुलिस ने शक के आधार पर नामजद मुकदमा दर्ज करते हुए जांच कर कार्यवाही का हवाला देते हुए जल्द गिरफ्तारी का दिया था आश्वाशन।लेकिन अभी तक पीड़ित को सिर्फ थाने का खाकी लगवाती रही चक्कर। थक-हार कर अब पुलिस अधीक्षक से पीड़ित ने लगाई न्याय की गुहार।

दरअसल मामला बीते 17 जून 2018 कूरेभार थाना क्षेत्र के पटना सैदखानपुर गांव का है। जहाँ के निवासी श्रीनाथ पुत्र राम बली की माने तो मृतक कमलेश शर्मा 17 जून 2018 को अज्ञात नम्बर से फोन आया और उसे बाग में आने की बात कही गई। सुबह 4 बजे गांव के ही कुछ लोगो ने रेलवे लाइन किनारे बाग के पास एक शव पड़ा देखा गया। लोगों ने इसकी सूचना पुलिस को दी,और उसकी पहचान भी हुई। तो वह कमलेश शर्मा की हुई। जिस पर पीड़ित ने हत्या करे जाने की बात कही थी,और लिखित थाने में तहरीर भी दी थी,और हत्या का मुकदमा भी दर्ज हुआ था। लेकिन खाकी की मेहरबानी आज तक आरोपियों की गिरफ्तारी न हो सकी। जब कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट में भी मृतक को गंभीर चोटें आई थी,और मौके वारदात पर अधिक मात्रा में जगह जगह खून देखे जाने की बात भी पीड़ित ने अपनी तहरीर में लिखी थी। लेकिन बावजूद इसके अभी तक जांच का कोरा आश्वासन देकर पीड़ित को थाने से वापस लौटा देती थी खाकी पुलिस। जब भी विवेचक से पीड़ित मिलता,तो बस उसे जांच चल रही जल्द ही गिरफ्तारी होगी। इस बात का आश्वासन देकर उसे थाने से वापस कर दिया जाता था। लेकिन पीड़ित का आरोप है कि कभी भी विवेचक ने ना ही उसका बयान दर्ज किया और न ही जांच के लिए पीड़ित के घर तक गई। अब थक हार कर पुलिस अधीक्षक ने पीड़ित ने न्याय की गुहार लगाई है।





No comments