Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Classic Header

{fbt_classic_header}

Breaking News

latest

खेत में भैंस घुसने पर दबंगो ने किशोर को पीट पीटकर मौत के घाट उतारा

--- आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए सपा नेताओं ने एसपी कार्यालय के बाहर शव रखकर प्रदर्शन किया --- सिंधौली थाना क्षेत्र के ग्राम नवादा सोनबरसा क...


--- आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए सपा नेताओं ने एसपी कार्यालय के बाहर शव रखकर प्रदर्शन किया
--- सिंधौली थाना क्षेत्र के ग्राम नवादा सोनबरसा की घटना, एक आरोपी गिरफ्तार

शाहजहांपुर। बेखौफ दबंगो ने खेत में भैंस घुसने से नाराज होकर एक किशोर की बेरहमी से लाठी डंडो से पीटकर पिटाई कर दिया। जिससे किशोर की दर्दनाक मौत हो गई। आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए सपा नेताओं ने एसपी कार्यालय के बाहर शव रखकर प्रदर्शन किया। पुलिस ने इस मामले में तीन लोगों के खिलाफ नामजद रिपोर्ट दर्ज की है।
        घटना थाना सिंधौली क्ष्रेत्र के ग्राम नवादा सोनबरसा की है। यहां के रहने वाले महेश यादव का 15 वर्षीय इकलौते बेटा कुलदीप यादव अपनी भैंस लेकर तालाब पर जा रहा था। इस दौरान भैंस वहां से भागकर गांव के रहने वाले दबंग अहिवरन सिंह के खेत में घुस गई और फसल खाने लगी। इस बात से आक्रोशित दबंगो अहिवरन सिंह के बेटे धर्मेन्द्र सिंह, बहादुर सिंह ने अपने साथी भूपेन्द्र सिंह पुत्र छोटे सिंह के साथ मिलकर कुलदीप के साथ गाली गलौज करते हुए लाठी डंडो से पिटाई कर दी। दबंगो ने उसे बुरी तरह पीटकर मौके पर ही मौत के घाट उतार दिया। कुलदीप की हत्या करने के बाद दबंग भाग गए। परिवार के लोग भी मौके पर आ गए। इत्तला पुलिस को दी तो पुलिस भी घटना स्थल पर पहुंच गई। इस मामले में मृतक कुलदीप के पिता महेश ने तीन लोगो के खिलाफ नामजद रिपोर्ट दर्ज करवाई। पुलिस ने शव पोस्टमार्टम को भेज दिया। पोस्टमार्टम के बाद परिजनों ने एसपी कार्यालय के बाहर शव रख दिया। जानकारी होते ही सपा जिलाध्यक्ष तनवीर खां, पूर्व विधायक राजेश यादव, एमएलसी अमित यादव रिंकू, पूर्व जिलाध्यक्ष प्रदीप पांडेय, रिजवान अहमद आदि लोग भी आ गए। आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग करते ह सपाइयों ने प्रदर्शन किया। इस बीच सीओ सिटी प्रवीण यादव भारी पुलिस फोर्स के साथ मौके पर आ गए। उन्होंने सपा नेताओं को समझाने का प्रयास किया लेकिन वह नही माने। तब एएसपी ग्रामीण अपर्णा गौतम ने मौके पर आकर परिजनों को समझाया और दो दिन में बाकी आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल भेजने का आश्वासन दिया। करीब दो घंटे बाद शव को सड़क पर से हटाकर प्रदर्शन खत्म किया गया।

शाहजहांपुर से शोभित राठौर




No comments