Skip to main content

कैसे मनाएं फादर्स डे एक लाचार और मजबूर पिता



महोबा। बेटी को ब्लड कैंसर , बेबस पिता - मजबूर मां एक पिता का स्वाभिमान तब चूर चूर हो गया। जब उसकी संतान अस्पताल में जिंदगी की जंग लड रही हो और बेबस पिता के पास बेटी के इलाज के लिए पैसे भी न हों , हास्पिटल का सुरसा की तरह बढ रहा बिल हो।  ऐसे हालात में लाचार पिता को लोगों से मदद की गुहार लगानी पड रही है।  कुलपहाड तहसील के ग्राम बगवाहा निवासी कमलेश राजपूत को हालात ने भले बुरी तरह तोड दिया हो लेकिन बेटी को बचाने की जंग में वे यमराज से भिड गए हैं। 

कमलेश की दस वर्षीया बेटी उन्नति को ब्लड कैंसर है। उसका कानपुर के एक निजी अस्पताल में इलाज चल रहा है। लेकिन उसके पास अस्पताल का भारी भरकम बिल अदा करने के पैसे नहीं है.। महोबा के एक निजी विद्यालय में कक्षा 6 की छात्रा उन्नति के पैरों में गत 13 जनवरी को पहली बार दर्द हुआ था। दर्द से परेशान उन्नति का पिता ने बेलाताल, महोबा व झांसी में इलाज कराया, कोई फायदा न मिलने पर पिता ने एम्स दिल्ली से आनलाइन एप्वाइंटमेंट ले लिया था। 
    7 अप्रैल को कमलेश बेटी उन्नति को लेकर दिल्ली जाने वाला था लेकिन दुर्भाग्य से इसी दौरान देश में लाॅकडाउन लग गया।  ऐसे में बेटी को दर्द से निजात दिलाने के लिए कमलेश ने मंदिरों जल चढाने एवं जात्रा में जाने से लेकर तमाम दूसरे जतन किए लेकिन उसे कोई फायदा नहीं हुआ। 
     जानकारी के मुताबिक कमलेश बेटी को लेकर कानपुर के एक निजी अस्पताल लेकर पहुंचा था। जहां डाक्टरों ने तमाम जांचें कराने के बाद ब्लड कैंसर की आशंका जताई।  शनिवार को उन्नति की कन्फरमेशन रिपोर्ट भी पाजिटिव आने के बाद कमलेश और मनोरमा के होश उड गए।  रिपोर्ट के साथ ही अस्पताल ने कमलेश को भारी भरकम बिल थमा दिया। उन्नति का उपचार डा.ऊषा वर्मा की देखरेख में चल रहा है । कमलेश के पास महज 8 बीघा खेती है। जबकि उन्नति की मां मनोरमा महोबा के एक निजी विद्यालय में शिक्षिका है। मां मनोरमा बेटी के साथ किराए के मकान में रह रही है, पिता कमलेश का डिप्रेशन का इलाज भी चल रहा है. डा. ऊषा वर्मा के अनुसार उन्नति का कम से कम आठ माह इलाज चलेगा। लेकिन इलाज में लग रहा भारी भरकम पैसे ने कमलेश की कमर तोड दी है। 

मरता क्या न करता की स्थिति में कमलेश को मजबूरी में सोशल मीडिया पर बेटी की जान बचाने के लिए मदद की गुहार लगानी पडी है। उन्नति पापा- मम्मी को टेंशन में देख समझ नहीं पा रही है कि उसे कौन सी बीमारी हो गई है। वहीं दूसरी ओर लाचार और बेबस पिता की आखिरी उम्मीद दूसरों से मिलने वाली मदद पर आकर टिक गई है।


विजय प्रताप सिंह
महोबा




Comments

Popular posts from this blog

रिजवान की मौत में आया नया मोड फैमिली डाक्टर अब्दुल हकीम ने बताया

टांडा कोतवाली क्षेत्र में रिजवान की मौत में आया नया मोड फैमिली डाक्टर अब्दुल हकीम ने बताया की 18अप्रैल को रिजवान की फुफी ने बताया की बाइक से गिरने से लगी है चोट जिसकी जिला अस्पताल में इलाज के दौरान  संदिग्ध  परिस्थितियों  में  हुई  22 वर्षीय युवक  के   मृत्यु  के   मामले  में मृतक के  पिता ने पुलिस की पिटाई के कारण मृत्यु होना बता कर पुलिस के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने की तहरीर दिया है। 

मौके का पुलिस अधीक्षक आलोक प्रियदर्शीएवं अपर पुलिस अधीक्षक अवनीश कुमार मिश्र ने निरीक्षण कर  जांचोपरांत कार्यवाही का आश्वासन दिया। पुलिस ने जहाँ पुलिस द्वारा  मारना पीटना बताया गया है ।उस घटनास्थल के आस पास लगे सीसी कैमरे  के फुटेज का निरीक्षण किया ।जिसमें किसी भी प्रकार की मार पीट की घटना दिखाई नही दे रही है । बैरहाल पुलिस हर बिंदुओं पर जांच कर रही है। शव का पोस्टमार्टम होने के बाद सुरक्षा व्यवस्था के बीच शव को मृतक के परिजनों को सौंप दिया गया। जिसके बाद बाद नमाज मगरिब शव को सलार गढ़ कब्रिस्तान में सुपुर्द ए खाक कर दिया गया। प्रशासन द्वारा सुपुर्द ए खाक में सीमित ही लोगों को जाने की अनुमति दी गई। इस मौके …

टाण्डा तहसील के शहर के नेहरू नगर मे 5 साल की बच्ची तृषा की रिपोर्ट आई पाज़िटिव

टाण्डा तहसील के नेहरू नगर में एक 5 साल की बच्ची तृषा पुत्री दिनेश कनौजिया करोना पाज़िटिव आई है। यह लोग मुंबई से चलकर इलाहाबाद आए थे ट्रेन से ।वहां से बस के द्वारा अकबरपुर आए थे। बच्ची को बुखार था प्राथमिक की स्क्रीनिंग में बच्चे को वहीं पर कोरंटाइन करा दिया गया था यह लोग 24 तारीख को यहां पर आए थे मौके पर टाण्डा एसडीएम अभिषेक पाठक व टाण्डा सीओ अमर बहादुर पहुंच कर एरिया को किया सील और लोगों से दूरी बनाने की अपील किया उसके बाद सीलिंग की कार्रवाई प्रारंभ होगी




यूपी के टॉप मोस्ट अपराधियों की बनाई गई लिस्ट

यूपी के टॉप मोस्ट अपराधियों की बनाई गई लिस्ट.

डीजीपी मुख्यालय ने बनाई 33 टॉप मोस्ट अपराधियों की लिस्ट.
लिस्ट में मुख्तार अंसारी, अतीक अहमद, ब्रजेश सिंह समेत 33 अपराधियों के नाम.

उत्तर प्रदेश में फिर शुरू होगा ऑपरेशन  क्लीन