Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Classic Header

{fbt_classic_header}

Breaking News

latest

कानपुर में राजकीय बाल ग्रह(बालिका)में संक्रमित मिली बालिकाओं में एक नाबालिग बालिका फ़िरोज़ाबाद की, वो भी है गर्भवती।

 यह बालिका थाना मक्खनपुर क्षेत्र के एक गांव की रहने वाली है,जोकि अपने ननिहाल मैं गई थी और वहां एक लड़के से इसका अफेयर हो गया और उसके साथ यह ...




 यह बालिका थाना मक्खनपुर क्षेत्र के एक गांव की रहने वाली है,जोकि अपने ननिहाल मैं गई थी और वहां एक लड़के से इसका अफेयर हो गया और उसके साथ यह चली गई,बाद में पुलिस ने इस को बरामद किया तो यह 2 महीने की प्रेग्नेंट थी,जिला एवं सत्र न्यायालय के आदेश पर इसे कानपुर बालिका गृह में भेज दिया गया क्योंकि यह युवती अपने परिवार वालों के साथ नहीं जाना चाहती थी। इसके भाई त्रिलोक सिंह ने थाना मक्खनपुर में उस युवक के खिलाफ मुकदमा भी लिखवाया है, आज भी है उस मुकदमे को लेकर थाना मक्खनपुर पुलिस के पास आया था उसका कहना है कि उसकी बहन कानपुर बालिका ग्रह में है, और वहां के लोगों ने उसे 2 दिन बाद बात कराने की कही है, बालिका ने एक युवक से शादी की थी भागकर, उसी के साथ रह रही थी, हाई स्कूल की मार्क शीट में बालिका का जन्म 2005 में दर्शया गया था, लेकिन वह 14 साल की बताई जा रही है

बालिका ने माँ बाप के साथ रहने से मना कर दिया था इस लिये उसे 16 फरवरी 2020 को कानपुर के बालिका ग्रह में भेज दिया था उस समय वह 2 माह की गर्भवती थी।




 भाई ने बताया कि उसकी बहन को एक युवक अपने साथ लेकर चला गया था जो कि 14 साल की है बाद में उसे पुलिस ने बरामद कर लिया उसे कानपुर के बालिका गृह में भेज दिया है,मेरी वहां लोगों से बात हुई थी तो उनका कहना था कि तुम्हारी बहन ठीक है 2 दिन बाद बात करा देंगे हमने उस युवक के खिलाफ थाने मक्खनपुर में मुकदमा लिखवाया है






अभय कुमार, जिला बाल संरक्षण अधिकारी फिरोजाबाद ने बताया कि लगातार जो मीडिया की खबर आ रही थी, एक लड़की वहां फिरोजाबाद की है मैंने जब पता किया तो वह लड़की 16 फरवरी 2020 को यहां से कानपुर गई है,जो कि पहले से ही 2 महीने से प्रेग्नेंट थी कोर्ट में विशेष जज थे उन्होंने इसको भेजा है हमारे पास  सीडब्ल्यूसी में आदेश आया था तो हमने सीडब्ल्यूसी में इसको दाखिल कर दिया क्योंकि हमारे यहां बालक ग्रह है बालिका गृह नहीं है,इसलिए वहां कानपुर भेज दिया हमारे पास तो मीडिया के द्वारा ही खबर आई थी









रिपोर्ट बृजेश सिंह राठौर




No comments