Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Classic Header

{fbt_classic_header}

Breaking News

latest

लगातार बारिश से सुरु हुआ घाघरा का तांडव , मंडराने लगा बाढ़ का खतरा

 लगातार हो रही बारिशों के कारण घाघरा नदी (सरयू ) का जल स्तर खतरे के निशान से ऊपर पहुंच गया है , लगातार बढ़ते जल स्तर से निचले इलाकों मे...




 लगातार हो रही बारिशों के कारण घाघरा नदी (सरयू ) का जल स्तर खतरे के निशान से ऊपर पहुंच गया है , लगातार बढ़ते जल स्तर से निचले इलाकों में भर रहा है पानी , यहां तक कई गांव एक दूसरों से कटने लगे है , जिसको देखते हुए प्रसाशन एलर्ट मोड़ पर आ गया है और ऐसे इलाकों में बचाव व राहत कार्यों की तैयारी तेज कर दिया है ,

 अम्बेडकर नगर जिले के दो तहसीलों टाण्डा व आलापुर से होकर गुजरने वाली घाघरा ( सरयू ) नदी का जल स्तर खतरे के निशान से ऊपर चला गया है ,लगातार बढ़ते जल स्तर से आलापुर तहसील क्षेत्र के कुछ गांव एक दूसरों से कट गए है और  नाव न होने के कारण लोग पानी मे घुस कर आने जाने को मजबूर हैं ,  बाढ़ की स्थिति को देखते हुए प्रसाशन एलर्ट हो गया है और इन क्षेत्रों में बचाव व राहत कार्यों में तेजी सुरु कर दिया है ,

 घाघरा नदी में बाढ़ के कारण नदी के किनारे बसने वाली आबादी में बाढ़ का खतरा मंडराने लगा है , इसके अलावा मांझा क्षेत्रों में कई गांवों धान की फसल भी बाढ़ की चपेट में आ गई है , बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में लोग प्रशासन से सहायता उपलब्ध कराने की मांग कर रहे हैं , कुछ आबादी क्षेत्रों में कटान की स्थिति उतपन्न होने के कारण बाढ़ खंड विभाग द्वारा नदी में पत्थरों से भरी बोरियां डाल कर बाढ़ से बचाव के उपाय किये जा रहे हैं , मुख्यमंत्री के निर्देश पर अयोध्या मंडल के आयुक्त एम पी अग्रवाल जिले के दौरे पर पहुंच कर स्वच्छता अभियान और बाढ़ की स्थित का जायजा लिया , उन्होंने बताया कि बाढ़ से निपटने के लिए सारे प्रबंध कर लिए गए हैं , किसी भी तरह से जन हानि अथवा पशु हानि नही होने दी जाएगी , उन्होंने बताया कि इस जिले में बाढ़ से प्रभावित होने वाले लगभग 10 गांव हैं, जिसके लिए आवश्यक निर्देश दिए गए हैं और अगर बाढ़ का खतरा ज्यादा बढ़ेगा तो ऐसे लोगों को वहां से निकाल कर सुरक्षित स्थानों पर स्थापित करा दिया जाएगा ,


No comments