Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Classic Header

{fbt_classic_header}

Breaking News

latest

मेडिकल स्टोर से नशीली दवा चुराने के आरोप में ऑटो चालक समेत 2 युवकों की कमरे में बंदकर बेरहमी से पिटाई, ऑटो चालक की मौत

 यूपी के कौशांबी में मंझनपुर कोतवाली क्षेत्र के समुदा बाजार स्थित एक मेडिकल स्टोर से नशीली दवा चुराने के आरोप में दुकानदार ने अपने साथियों क...


 यूपी के कौशांबी में मंझनपुर कोतवाली क्षेत्र के समुदा बाजार स्थित एक मेडिकल स्टोर से नशीली दवा चुराने के आरोप में दुकानदार ने अपने साथियों के साथ मिलकर ऑटो चालक समेत दो युवकों को कमरे में बंदकर बेरहमी से पीट दिया। घटना की जानकारी मिलते ही मौके पर पुलिस पहुंच गई और भीड़ से दोनों युवकों को बचा लिया। इसके बाद समझा-बुझाकर दोनों युवकों को घर भेज दिया। आरोप है कि पुलिस ने दोनों का इलाज भी नहीं करवाया। शरीर पर गंभीर चोट लगने से ऑटो चालक मोहम्मद वैश की मौत हो गई। पुलिस ने युवक के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। मृतक की पत्नी की तहरीर पर पुलिस ने मेडिकल स्टोर संचालक के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर जेल भेज दिया। युवक की मौत से परिजनों में कोहराम मचा हुआ है। अपर पुलिस अधीक्षक समर बहादुर ने बताया कि मामले में आरोपी के खिलाफ केस दर्ज कर उसे जेल भेज दिया गया है। घटना की छानबीन चल रही है।

 मंझनपुर कोतवाली क्षेत्र के कांशीराम कालोनी निवासी मोहम्मद वैश (28) व सोनू (23) ऑटो चला कर अपने परिवार का भरण पोषण करते थे। दोनों ही नशीली दवा के आदी थे। शुक्रवार को वह समदा स्थित एक मेडिकल स्टोर से नशीली दवा खरीदने गए थे। आरोप है कि दोनों ने मेडिकल स्टोर से नशीली दवा चुरा ली थी। दवा चुराने की जानकारी मेडिकल स्टोर संचालक को हो गई। उसने शोर मचाकर दवा चुराने की जानकारी आसपास के अन्य दुकानदारों को दी। मौके पर लोगों की भीड़ जुट गई। आरोप है कि मेडिकल स्टोर संचालक ने अपने साथियों के साथ मिलकर दोनों युवकों कमरे में ले जाकर बंद कर दिया। इसके बाद उनकी बेरहमी से पिटाई शुरू कर दी  तब तक किसी ने मामले की जानकारी मंझनपुर कोतवाली पुलिस को दे दी। थोड़ी ही देर में मौके पर पहुंची पुलिस ने दोनों को भीड़ से बचाया। और कमरे से बाहर निकाला। चोरी का मामला होने के कारण समझा-बुझाकर शांत करा दिया गया। पिटाई से दोनों युवकों को शरीर पर अंदरूनी गंभीर चोटें लग गई। लेकिन पुलिस ने उनका इलाज कराने के बजाय दोनों को घर भेज दिया। परिजनों की मानें तो वह दर्द से वैश रात भर कराहता रहा और भोर में उसकी इलाज के अभाव में मौत हो गई। उसकी मौत से परिजनों में कोहराम मच गया। मासूम बच्चे और बीवी का रो-रोकर हाल बेहाल हो गया। उसकी पत्नी रेशमा की तहरीर पर पुलिस ने आरोपी मेडिकल स्टोर के संचालक के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज कर जेल भेज दिया। ऐसी घटना से इलाके में सनसनी फैली हुई है। पुलिस घटना की छानबीन में जुटी है।





No comments