Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Classic Header

{fbt_classic_header}

Breaking News

latest

असम बुक ऑफ रिकॉर्ड अवॉर्ड से सम्मानित हुए अरुणेश पाठक

*भारतीय रोटी बैंक की स्थापना कर समाज सेवा में उत्कृष्ट योगदान देने के लिए किए गए सम्मानित* हरदोई 4 जुलाई।। भारतीय रोटी बैंक के संस्थ...



*भारतीय रोटी बैंक की स्थापना कर समाज सेवा में उत्कृष्ट योगदान देने के लिए किए गए सम्मानित*

हरदोई 4 जुलाई।।
भारतीय रोटी बैंक के संस्थापक अरुणेश पाठक को राष्ट्रीय स्तर पर असम बुक ऑफ रिकॉर्ड द्वारा रिस्पांसिबल इंडियन सेव लाइव्स प्लेज से समाज सेवा में उत्कृष्ट कार्य के लिए सम्मानित किया गया।
अरुणेश पाठक ने बताया कि लॉकडाउन में लगातार भूखों बेसहारों जरूरतमंदों राहगीरों व मध्यमवर्गीय परिवारों को भोजन राशन तथा कोरनटाइन सेंटर में जाकर प्रवासी मजदूर के नौनिहाल बच्चों में दूध का वितरण लगातार किया गया तथा जिन मध्यमवर्गीय परिवारों को राशन की जरूरत हुई उन तक राशन व संपूर्ण शहर में प्रतिदिन भोजन वितरण कराया गया।
भारतीय रोटी बैंक परिवार ने इन संकट की घड़ियों में लगातार जरूरतमंद लोगों तक हर संभव मदद पहुंचाने का संकल्प लिया और उसे पूरा किया तथा आज भी अनवरत जारी रखे हैं।
सोशल मीडिया के माध्यम से भी जिन लोगों की जानकारी होती है उन तक अभी भी मदद पहुंचाई जा रही है।
श्री पाठक ने बताया कि लॉकडाउन के दौरान गर्भवती महिलाओं को मेडिकल किट के साथ-साथ संपूर्ण राशन किट संस्था द्वारा उपलब्ध कराई जिससे उन्हें प्रसव के दौरान किसी प्रकार की कोई समस्या ना हो तथा संस्था द्वारा हजारों जरूरतमंद लोगों को मास्क व सेनीटाइजर वितरण निरंतर जारी रहा।
आपको बता दें अरुणेश पाठक लगातार लगभग 5 वर्षों से भारतीय रोटी बैंक परिवार के सैकड़ों सदस्यों को संजोकर रखते हुए हर प्रकार से भूखों बेसहारों जरूरतमंदों तथा बेसहारा गरीब अनाथ कन्याओं का विवाह भी कराते हैं और संपूर्ण खर्च उनकी संस्था वहन करती है।
इस लॉकडाउन में तीन बेसहारा जरूरतमंद कन्याओं का विवाह धूमधाम से सफल करा कर बेटियों के हाथ पीले किए।
श्री पाठक को अवार्ड से सम्मानित होने पर उनके संस्था के समस्त पदाधिकारियों में खुशी की लहर दौड़ चुकी है।




No comments