Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Classic Header

{fbt_classic_header}

Breaking News

latest

साथी शिक्षक के निधन पर महाविद्यालय के शिक्षक शोकाकुल

  बलरामपुर एमएलके डिग्री कॉलेज के भौतिकी विज्ञान के प्रवक्ता डॉ अमरेंद्र कुमार सिंह के आकस्मिक निधन पर सिद्धार्थ नगर विश्वविद्यालय शिक्...

 

बलरामपुर एमएलके डिग्री कॉलेज के भौतिकी विज्ञान के प्रवक्ता डॉ अमरेंद्र कुमार सिंह के आकस्मिक निधन पर सिद्धार्थ नगर विश्वविद्यालय शिक्षक महासंघ एवं महाविद्यालय शिक्षक संघ जिला इकाई ने शोक संवेदना व्यक्त करते हुए अपूरणीय क्षति करार दिया है सूआपटा के पूर्व जिला अध्यक्ष एवं भौतिकी विभाग के विभागाध्यक्ष डॉ एके द्विवेदी प्रवक्ता डॉ जनार्दन प्रसाद पांडे डॉ राजीव रंजन श्रीवास्तव डॉक्टर सद्गुरु श्रीवास्तव डॉक्टर आलोक कुमार शुक्ला डॉक्टर सुनील मिश्रा डॉक्टर दिव्य दर्शन तिवारी डॉक्टर देवेंद्र चौहान सहित विद्यालय प्रिंसिपल डॉक्टर आरके सिंह ने साथी प्रोफ़ेसर के आकस्मिक निधन पर 2 मिनट का मौन रखकर उन्हें श्रद्धा सुमन अर्पित करते हुए महाविद्यालय की अपूरणीय क्षति करार दिया है विद्यालय प्रिंसिपल ने कहा कि डॉ अमरेंद्र कुमार सिंह कुशल शिक्षक के साथ-साथ सरल मृदुभाषी एवं मिलनसार व्यक्तित्व के धनी थे वह महाविद्यालय शिक्षक संघ के जिला महामंत्री निर्वात मान में थे उनके निधन से महाविद्यालय के शिक्षक कर्मचारियों मैं शोक की लहर दौड़ गई है इसी क्रम में मारकंडेय सिंह मेमोरियल इंटर कॉलेज बकौली राजपुर गैसड़ी मैं एक शोक संवेदना आयोजित की गई शोक संवेदना में विद्यालय प्रिंसिपल एस के यादव ने कहा कि डॉ अमरेंद्र कुमार सिंह विद्यालय के प्रबंधक रहे हैं उनके आकस्मिक निधन से विद्यालय परिवार को गहरी आधार लगी है उनके आकस्मिक निधन पर विद्यालय शिक्षक कर्मचारियों ने 2 मिनट का मौन रखकर शोक संवेदना व्यक्त करते हुए मृतक आत्मा की शांति की कामना की है प्रबंधक के निधन पर विद्यालय के अनिल कुमार आर्यन वर्मा सुनील कुमार शिव कुमार वर्मा सामाजिक कार्यकर्ता अंबुज पांडे राहुल तिवारी,स्व रविदत्त सोसल वेलफेयर सोसायटी अध्यक्ष व वरिष्ठ पत्रकार डॉ अविनाश पांडेय ने भी डॉक्टर ए के सिंह के अचानक निधन पर शोक व्यक्त कर अपूरणीय क्षति करार दिया है। सभी मृतक आत्मा की शांति की कामना की है वही उनके छोटे भाई अरविंद कुमार सिंह ने कहा कि सदैव दूसरों की मदद करने वाले एवं गरीब बच्चों को निशुल्क शिक्षा देने में सदैव प्राथमिकता रखने वाले विद्यालय प्रबंधक का आकस्मिक निधन अपूरणीय क्षति है



No comments