Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Classic Header

{fbt_classic_header}

Breaking News

latest

मुज़फ्फरनगर सीकरी का स्वास्थ्य उप केंद्र बदहाली मैं जब स्वास्थ्य केंद्र की ही हालत ठीक नहीं तो क्या मरीजों को खाक कर पाएंगे यह लोग ठीक

मुज़फ्फरनगर।कोरोना वायरस स्वास्थ्य केन्द्र बीमार, सेवाएं बदहाल ब्लॉक मोरना के उप स्वास्थ्य केंद्र सीकरी में अव्यवस्थाओं का अंबार है। ...





मुज़फ्फरनगर।कोरोना वायरस
स्वास्थ्य केन्द्र बीमार, सेवाएं बदहाल ब्लॉक मोरना के उप स्वास्थ्य केंद्र सीकरी में अव्यवस्थाओं का अंबार है। नियमित उपकेंद्र पर चिकित्सक केवल महीने में एक बार बैठते हैं। जिस वजह से लोगों को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। सच तो ये है कि स्वास्थ्य केंद्र बीमार है और सेवाएं यहां बदहाल हैं।

सरकार बेहतर स्वास्थ्य सेवा दिलाने के लिए हर संभव प्रयास कर रही है। कई योजनाएं ग्रामीण अंचल में चलाई जा रही हैं। गांवों में उप केंद्रों की स्थापना इस मकसद से कराई गई थी कि लोगों को प्राथमिक उपचार वहां मिल सके, लेकिन देहात क्षेत्रों में कई ऐसे उपकेंद्र हैं,जो सरकारी सिस्टम की लापरवाही की वजह से अपनी बदहाली पर आंसू बहा रहे हैं। मोरना क्षेत्र के गांव सीकरी में बना प्राथमिक उप स्वास्थ्य केंद्र सालों से बदहाली का शिकार है। सुविधाओं के नाम पर यहां कुछ भी नहीं है। ग्रामीणों का आरोप है कि चिकित्सक कभी-कभी आते हैं। पानी की समुचित व्यवस्था है ना कोई चिकित्सा सुविधा। स्वास्थ्य केंद्र परिसर में गंदगी का अंबार लगा हुआ है तो वहीं सभी खिड़की दरवाजे टूटे हुए हैं, सभी कमरों में गंदगी नजर आती है। स्वास्थ्य केंद्र की हालत देख कर लगता ही नहीं कि यहां चिकित्सा लाभ मिल सकता है। स्वास्थ्य विभाग की लापरवाही के चलते यहां के लोगों को सस्ती सुलभ स्वास्थ्य सेवाओं का लाभ नहीं मिल पा रहा है। स्वास्थ्य विभाग को ऐसे प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों की ओर ध्यान देना होगा, जिससे लोग चिकित्सा सेवा का लाभ उठा सकें। अब देखना यह होगा कि खबर प्रकाशित होने के बाद स्वास्थ्य विभाग के उच्च अधिकारी इस और ध्यान देते हैं या फिर ग्रामीणों के लगाए गए आरोपों के मुताबिक स्थानीय डॉक्टरों के साथ साथ उच्च अधिकारी भी हो चुके हैं बहरे और गूंगे।


ब्यूरो रिपोर्ट संजय कुमार मुजफ्फरनगर उत्तर प्रदेश



No comments