Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Classic Header

{fbt_classic_header}

Breaking News

latest

हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे की गिरफ्तारी के लिए सीमाओं पर नाकेबंदी

हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे सहारनपुर कोर्ट में कर सकता है सरेंडर                          सहारनपुर: कानपुर में हुई मुठभेड़ के मुख्य आरोपी वि...


हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे सहारनपुर कोर्ट में कर सकता है सरेंडर
                         सहारनपुर: कानपुर में हुई मुठभेड़ के मुख्य आरोपी विकास दुबे की गिरफ्तारी पुलिस के लिए चुनौती बनी हुई है. पुलिस मुख्यालय से जहां 20 टीमें गठित कर हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे की तलाश में लगी हैं, वहीं ढाई लाख का इनाम घोषित कर पूरे राज्य में पोस्टर चिपकाए जा रहे हैं. विकास दुबे की तलाश में सहारनपुर पुलिस की ओर से भी पोस्टर चस्पा किए जा रहे हैं.
जगह-जगह लगे पोस्टर
थाना देवबंद इलाके में हाईवे और आसपास के इलाकों में जगह-जगह मुख्य आरोपी विकास दुबे की फोटो के साथ पोस्टर लगाए गए हैं. इतना ही नहीं पुलिस अधिकारी भारी पुलिस बल के साथ सड़कों पर उतरकर संदिग्धों की चेकिंग कर रहे हैं. बता दें कि 2006 में नारकोटिक्स एक्ट में मुकदमा दर्ज कर विकास दुबे को गिरफ्तार किया गया था. इसी के चलते आशंका जताई जा रही है कि विकास दुबे सहारनपुर की कोर्ट में सरेंडर कर सकता है.

ढाई लाख का इनाम घोषित
कानपुर के थाना चौबेपुर इलाके के बिकरू गांव में हुई मुठभेड़ के दौरान 8 पुलिसवालों की हत्या के मामले में फरार चल रहे हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे की गिरफ्तारी यूपी पुलिस के लिए बड़ी चुनौती बनी हुई है. कानपुर पुलिस ही नहीं प्रदेश का तमाम पुलिस अमला विकास दुबे की तलाश में जुटा हुआ है. शासन स्तर से विकास दुबे पर ढाई लाख का इनाम घोषित किया गया है.

एसएसपी डॉ. एस. चन्नपा ने सभी थानाध्यक्षों को चेकिंग के साथ अपराधियों की धरपकड़ के आदेश दिए हैं. जनपद की सीमाओं पर नाकेबंदी कर तलाशी अभियान चलाया गया है. हरियाणा, पंजाब, उत्तराखंड समेत दूसरे राज्यों से आने वाले वाहनों की चेकिंग की जा रही है. जानकारी के मुताबिक हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे सहारनपुर कोर्ट में सरेंडर करने की फिराक में है. क्योंकि 15 साल पहले नारकोटिक्स एक्ट की धाराओं में न सिर्फ उसके खिलाफ मुकदमा दर्ज हुआ था,  बल्कि पुलिस ने विकास दुबे को गिरफ्तार कर जेल भी भेजा था.




No comments