Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Classic Header

{fbt_classic_header}

Breaking News

latest

व्यापक हित में किया गया प्रयास ही विज्ञान तथा पारस्परिक सहयोग एवं परोपकार ही समस्त धर्मों का सार है- महानिदेशक एल0 वेंकटेश्वर लू

           सुलतानपुर 10 जुलाई/महानिदेशक राज्य ग्राम्य विकास संस्थान तथा उ0प्र0 प्रशासन एवं प्रबन्धन अकादमी उ0प्र0 श्री एल0 वेंकटेश्वर ल...



           सुलतानपुर 10 जुलाई/महानिदेशक राज्य ग्राम्य विकास संस्थान तथा उ0प्र0 प्रशासन एवं प्रबन्धन अकादमी उ0प्र0 श्री एल0 वेंकटेश्वर लू की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट सभागार में विभिन्न धर्मगुरूओं, स्वयं सेवी संस्थाओं एवं गैर सरकारी संगठनों के प्रतिनिधियों के साथ कोविड-19 एवं संचारी रोगों के नियंत्रण के सम्बन्ध में बैठक आयोजित की गयी।
           बैठक में महानिदेशक ने जिलाधिकारी सी0 इन्दुमती एवं उनकी पूरी टीम की प्रसंशा करते हुए कहा कि कोविड-19 के नियंत्रण में जनपद प्रशासन अपने उद्देश्य में सफल रहा है। उन्होंने अवगत कराया कि विचित्र बीमारी कोविड-19 ने सम्पूर्ण विश्व को प्रभावित कर रखा है। ऐसी परिस्थिति विशेष में परस्पर सहयोगी भावना से काम करना चाहिये। सहयोग एवं परोपकार सभी धर्मों का मुख्य उपदेश है। एक दूसरे का व्यापक हित में किया गया प्रयास ही सर्वोपरि ज्ञान एवं वास्तविक विज्ञान है। सभी व्यक्तियों में एक जैसे प्राणतत्व होते हैं उपचार पद्धतियाँ भले ही भिन्न-भिन्न हों, किन्तु स्वच्छता, खान-पान, नियमित दिनचर्या, योगासन, व्यायाम, प्राणायाम सबके लिये समानरूप से लाभकारी होता है। पूर्व सावधानियाँ हमेशा उपचार से बेहतर होती हैं अतः हम सब पूर्व सावधानियों द्वारा स्वयं को सुरक्षित रख सकते हैं।
              उन्होंने कहा कि संचारी रोगों के संक्रमण का अनुकूलित समय चल रहा है हम अपनी व्यक्तिगत, अपने घर की और खान-पान की स्वच्छता पर ध्यान देकर स्वयं को सुरक्षित रख सकते हैं। उन्होंने समस्त धर्मगुरूओं एवं संस्थाओं के प्रतिनिधियों से अपील किया कि कोरोना के अज्ञात भय से जन मानस को मुक्त कराने तथा स्वच्छता के प्रति सामाजिक जागरूकता का कार्य आपसे बेहतर कोई नहीं कर सकता है अतः मानव जीवन की सुरक्षा के संवाहक बनें जो सबसे बड़ा परोपकार है। उन्होंने बैठक में समस्या एवं सुझाव आमंत्रित किये जिस पर नेशनल यूनिटी फाउण्डेशन के प्रतिनिधि अफसार मिर्जा ने कहा कि हम 40 से 50 प्रवासियों को रोजगार देना चाहते हैं।  अधिकांश धर्मगुरूओं एवं संस्थाओं ने जिला प्रशासन की कोविड-19 के प्रति किये गये प्रयास की सराहना करते हुए नगर पालिका सुलतानपुर द्वारा नालियों, सड़कों, गलियों की स्वच्छता पर अधिक ध्यान देने की आवश्यकता पर बल दिया।
              जिलाधिकारी ने अवगत कराया कि प्रत्येक ग्राम पंचायत में एक निगरानी समिति कोविड-19 लक्षण वाले व्यक्तियों का चिन्हाकन कर रही है और चिन्हित व्यक्तियों की सैम्पलिंग नियमित रूप से करायी जा रही है, जो व्यक्ति अनावश्यक रूप से सैम्पलिंग कराने के लिये दबाव बनाते हैं अथवा आवश्यक सैम्पलिंग कराने में अवरोध उत्पन्न करते हैं उनकी जानकारी 24 घण्टे अनवरत संचालित कन्ट्रोल रूम में प्रेषित करें। ऐसे स्थानों पर और ऐसे व्यक्तियों के लिये पुलिस बल की व्यवस्था करेंगे। जागरूकता सम्बन्धी कार्य प्रशासन द्वारा बखूबी किया जा रहा है, किन्तु अनुपालन कराने में धर्मगुरूओं, स्वयं सहायता समूहों, गैर सरकारी संगठनों का  सहयोग आवश्यक है। 
            इस अवसर पर पुलिस अधीक्षक शिव हरी मीना, नोडल अधिकारी राज कमल यादव, मुख्य विकास अधिकारी रमेश प्रसाद मिश्र, अपर जिलाधिकारी(प्रशा0) हर्षदेव पाण्डेय, जिला अर्थ एवं संख्या अधिकारी पन्नालाल, विभिन्न धर्मों के धर्मगुरू, गैर सरकारी संगठनों एवं स्वयं सहायता समूह के प्रतिनिधि उपस्थित रहे।




No comments