Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Classic Header

{fbt_classic_header}

Breaking News

latest

महानिदेशक ने कोविड-19, संचारी रोगों की रोकथाम, स्वच्छ पेयजल, जल निकासी व्यवस्था के सम्बन्ध में मा0 जनप्रतिनिधियों एवं सम्भ्रान्त नागरिकों के साथ किया जन संवाद एवं सहयोग की अपील

             सुलतानपुर 12 जुलाई/ महानिदेशक राज्य ग्राम्य विकास संस्थान तथा उ0प्र0 प्रशासन एवं प्रबन्धन अकादमी उ0प्र0 श्री एल0 वेंकटेश्व...



             सुलतानपुर 12 जुलाई/ महानिदेशक राज्य ग्राम्य विकास संस्थान तथा उ0प्र0 प्रशासन एवं प्रबन्धन अकादमी उ0प्र0 श्री एल0 वेंकटेश्वर लू/नोडल अधिकारी ने मा0 विधायक सुलतानपुर, अध्यक्ष नगर पालिका परिषद सुलतानपुर, समस्त वार्ड सभासदों एवं शहर के सम्भ्रान्त नागरिकों के साथ पं0 राम नरेश त्रिपाठी सभागार में बैठक कर जन संवाद स्थापित किया। उन्होंने नगर की पेयजल व्यवस्था, स्वच्छता एवं कूड़ा निस्तारण की स्थिति, संचारी रोगों के प्रति जागरूकता एवं किये जा रहे प्रयासों के सम्बन्ध में विचार आमंत्रित किये। उप जिलाधिकारी सदर रामजी लाल ने विगत 03 दिनों से महानिदेशक महोदय द्वारा किये गये भ्रमण एवं दिये गये निर्देशों पर विस्तृत प्रकाश डालते हुए पूर्ण अनुपालन कराये जाने का आश्वासन दिया। मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ0 सीबीएन त्रिपाठी ने अवगत कराया कि मच्छर  जनित, जल जनित एवं मानव जनित बीमारियों पर सभी के सहयोग से ही नियंत्रण पाया जा सकता है। उन्होंने कोविड-19 से बचाव हेतु मास्क लगाने, शारीरिक दूरी बनाये रखने एवं प्रत्येक 02 घण्टे पर साबुन से हस्तप्रक्षालन की अनिवार्यता पर बल दिया।
              बैठक में मा0 विधायक सुलतानपुर सूर्यभान सिंह, अध्यक्ष नगर पालिका परिषद, बबिता जायसवाल एवं अनेक वार्ड सभासदों ने स्वच्छ पेयजल व्यवस्था स्थापित करने में जल निगम की विफलता का उल्लेख करते हुए अधिशासी अभियन्ता को दोषी बताया। जिस पर जिलाधिकारी महोदया ने शिकायत से सम्बन्धित घटिया निर्माण कराने तथा समयान्तर्गत कार्य पूर्ण न करने का कारण अधिशासी अभियन्ता जल निगम से जानना चाहा। उन्होंने अधिशासी अभियन्ता द्वारा संतोष जनक उत्तर न देने पर नाराजगी व्यक्त करते हुए शीघ्र ही मानक के अनुसार कार्य पूर्ण कराने हेतु निर्देशित किया। उन्होंने यह भी अवगत कराया कि पूर्व में की गयी शिकायत के सम्बन्ध में जॉच करा ली गयी है, किन्तु अधिशासी अभियन्ता द्वारा मरम्मत कराये जाने की सूचना देने कारण कोई कार्यवाही नहीं की गयी है। पुनः जॉच करवाकर आपत्ति विषयक आवश्यक कार्यवाही की जायेगी।
            महानिदेशक महोदय ने जिलाधिकारी को निर्देशित किया कि वह उप जिलाधिकारी एवं अधिशासी अभियन्ता जल निगम के साथ स्वयं भ्रमण कर हकीकत पता करें तथा समाधान करायें।
महानिदेशक ने कहा कि दृढ़ निश्चय से ही सफलता की प्राप्ति होती है। सभी लोगों को समस्या के साथ-साथ समाधान का हिस्सा बनना पड़ेगा। उन्होंने कहा कि बहुत भाग्य से मानव योनि प्राप्त होती है और मानव का मकसद बहुत बड़ा होना चाहिये और हम अभी तक कूड़े में अटके हुए हैं अतः पीछे की बात छोड़कर सच्चे मन से सहयोग की भावना से मानव कल्याण के सर्वाधिक बड़े अभियान स्वच्छता एवं पेयजल को साकार करें। उन्होंने बताया कि 70 प्रतिशत से अधिक बीमारियाँ गन्दगी एवं दूषित जल से उत्पन्न होती हैं और हर घर नल-जल मा0 प्रधानमंत्री जी की बहुत बड़ी संकल्पना है। इसे परस्पर सहयोग से साकार करें यही हमारा धर्म है।   
            इस अवसर पर जिलाधिकारी सी0 इन्दुमती, कोविड-19 नोडल अधिकारी राज कमल यादव, पुलिस अधीक्षक शिव हरी मीना, मुख्य विकास अधिकारी रमेश प्रसाद मिश्र, अपर जिलाधिकारी (वि0/रा0) उमाकान्त त्रिपाठी, उप जिलाधिकारी विधेश, जिला विकास अधिकारी डॉ0 डी0 आर0 विश्वकर्मा, जिला अर्थ एवं संख्या अधिकारी पन्नालाल, अधिशासी अभियन्ता जल निगम आर0एस0 यादव सहित सभासदगण एवं सम्भ्रान्त नागरिक आदि उपस्थित रहे।





No comments