Skip to main content

अलीगढ़ गोंडा थानाध्यक्ष ने पूछा आपने मेरे साथ मारपीट क्यों की,भाजपा विधायक बोले जब तुम मेरी नहीं सुनोगे तो क्या करूं,मारपीट से पहले का वीडियो हुआ वायरल

 

अलीगढ़ थाना गोंडा के अंदर कल भाजपा विधायक और थाना अध्यक्ष के बीच मारपीट हो गई थी। लेकिन मारपीट किस वजह से हुई किसी को कुछ पता नहीं चला कि आखिर थाना अध्यक्ष और भाजपा विधायक के बीच मारपीट का मामला क्या था। लेकिन एक वीडियो सोशल मीडिया पर अब जमकर वायरल हो रही है। जिस वीडियो के अंदर थानाअध्यक्ष द्वारा भाजपा विधायक से पूछ रहे है। कि आपने मेरे साथ मारपीट क्योंकि उसके बाद भाजपा विधायक ने थाना अध्यक्ष से कहा जब तुम मेरी बात नहीं सुनोगे तो मैं क्या करूं ।


 उत्तर प्रदेश में खाकी के ऊपर आरोप लगना एक आम बात हो गई है। यही कारण है। खाकी पर लगने वाले आरोपों के कारण हर रोज खाकी को कठघरे में खड़ा होना पड़ता है। लेकिन अगर बात एक वायरल वीडियो की कही जाए तो वायरल वीडियो के सामने आने के बाद कहीं ना कहीं खाकी को संजीवनी जरूर मिलेगी। उसकी वजह है। खाकी का जो दामन दागदार हुआ है। वो पूरी तरह साफ तो नहीं हो पायेगा लेकिन वायरल वीडियो सामने आने से खाकी का वो दामन दाग से निखर जरूर जाएगा।


वहीं इस मामले की सूचना बीजेपी के पदाधिकारियों के द्वारा मुख्यमंत्री को दी गई। तो वहीं मुख्यमंत्री के द्वारा उक्त मामले को संज्ञान में लेते हुए एसपी ग्रामीण को अतुल शर्मा को शासन स्तर से ट्रांसफर,और एसओ अनुज सैनी को सस्पेंड करते हुए उक्त मामले की जांच आईजी से एक दिन में रिपोर्ट पेश करने की ट्विटर से जानकारी दी। तो वहीं इस मामले पर आलाधिकारियों के सामने बीजेपी पदाधिकारी भी मान गये। और बीजेपी विधायक राजकुमार सहयोगी ने भी सहमति प्रदान की।


उत्तर प्रदेश के जनपद अलीगढ़ के गोंडा थाने के अंदर इगलास सीट से भाजपा विधायक राजकुमार सहयोगी और गोंडा थाना अध्यक्ष अनुज कुमार सैनी की तीखी वार्ता का वीडियो वायरल हो रहा है  जिस वायरल वीडियो में भाजपा विधायक राजकुमार सहयोगी ने थाना अध्यक्ष के साथ हुई मारपीट की बात खुद अपने मुंह से भाजपा विधायक कुबूल की है बीजेपी MLA के साथ मारपीट से पहले का वीडियो हुआ वायरल थाने पहुंचते ही बीजेपी विधायक राजकुमार सहयोगी द्वारा थाना अध्यक्ष के साथ मारपीट का सच हुआ वायरल वीडियो से हो रहा उजागर।


गोंडा थाने में विधायक राजकुमार सहयोगी और एसओ के बीच क्या हुआ, इसे लेकर बेशक लोगों की अपनी-अपनी दलील हो। मगर झगड़े के बाद एसओ और विधायक के बीच हुई बातचीत में खुद विधायक राजकुमार सहयोगी अपने ही बयानों में फंसते नजर आए। बातचीत में एसओ ने सवाल किया है कि आपने थाने में घुसते ही मेरे साथ मारपीट क्यों की। इसके जवाब में वह कह रहे हैं कि जब आप मेरी सुनते नहीं हो तो में क्या करूं। विवाद के बाद थानाध्यक्ष गोंडा  और भाजपा विधायक के बीच थाने के अंदर बने एक चबूतरे पर बैठकर बातचीत हो रही है।


जहां इस बातचीत में थाना अध्यक्ष गोंडा अनुज सैनी ने ही यह सवाल उठाया है कि आपने थाने में आते ही मेरे साथ मारपीट क्यों शुरू की। जिस पर विधायक कह रहे हैं कि सैनी जी आप मेरी बात सुनिये कि जब से आपने चार्ज लिया है। एक भी काम नहीं हो रहा कार्यकर्ता या मेरे कहने पर। लूट खसोट हो रही है। मेरी सिफारिश के बाद हर बात में आप फैसला कराते हो।


 पांच हजार रुपये लेकर बीस हजार रुपये लेकर फैसला कराते हो। आप पकड़कर लाने के नाम पर पेट्रोल के नाम पर जुर्माना लेते हो। फिर एसओ ने वही सवाल दुहराया कि आपने मेरे साथ मारपीट क्यों की तो विधायक जवाब दे रहे हैं कि आपने अज्जू इशहाक के कहने पर क्रास मुकदमा दर्ज क्यों कर लिया। उसने कहा खुद आपसे। अज्जू यहां नेतागिरी करेगा। फिर उसी सवाल पर एसओ विधायक को लेकर आए कि आपने मेरे साथ मारपीट क्यों की,तो विधायक बोले कि आप मेरे कार्यकर्ता की बात नहीं सुन रहे। आप हमारी बात नहीं सुन रहे तो क्या करें। जनता का काम नहीं करोगे तो क्या करें।


हमने बदतमीजी शुरू नहीं की बदतमीजी शुरू की। अब आप जो चाहें वो करें। मुझे अपना कर्तव्य पता है। एसओ ने मुस्लिम को छोड़ने के लिए विधायक द्वारा दिए गए दबाव पर जोर दिया तो विधायक इस बात को नकारने लगे।  इस वीडियो में एसओ बार-बार विधायक से कह रहे हैं कि आपने मारपीट क्यों शुरू की तो विधायक उस बात पर यही जोर दे रहे हैं कि आप हमारी सुनवाई नहीं करते कार्यकर्ता की सुनवाई नहीं करते तो क्या करें। अब आप हमारे साथ जो चाहें वो कर दीजिये हमें बंद कर दीजिये।


अलीगढ़ में बीजेपी विधायक राजकुमार सहयोगी के साथ मारपीट प्रकरण में अब बसपा ने जातिवादी का कार्ड खेला है। क्योंकि विधायक राजकुमार सहयोगी दलित जाति से आते हैं इसको लेकर बहुजन समाज पार्टी के पूर्व मंडल जोन इंचार्ज रतनदीप सिंह ने कहा कि आज अलीगढ़ जनपद में जो घटना हुई है इगलास विधानसभा के दलित विधायक जो बीजेपी से हैं उनको जिस तरह से थाने में पुलिस कर्मियों द्वारा पीटा गया है इसके द्वारा मैं यह कहना चाहता हूं कि जब से भारतीय जनता पार्टी की सरकार प्रदेश में बनी है तब से दलितों का उत्पीड़न लगातार बढ़ गया है। भारतीय जनता पार्टी का आज मुख्य केंद्र रहता है किसी भी तरीके से उद्देश्य है कि दलितों को इसी तरीके से आगे ना आने दिया जाए। उनकी विचारधारा है उस पर योगी जी काम कर रहे हैं। क्योंकि आप देखिए जब से सरकार बनी है तब से दलित और पिछड़े विधायक उन पर अत्याचार हो रहा है। उन्हीं के साथ मारपीट की घटना हो रही है। उन्हीं को जेल भेजा जा रहा है। किसी भी सवर्ण विधायक सांसद के खिलाफ अभी तक प्रशासन ने कोई ऐसी कार्रवाई नहीं की है। केवल दलित समाज के लोगों पर कार्यवाही की जा रही है। वह विधायक मंत्री सांसद कोई भी हो उनको किसी भी रुप से आगे नहीं आने दिया जा रहा है। मैं माननीय विधायक जी के लिए संवेदना प्रकट करता हु । पूरा समाज उनके साथ है और प्रशासन को एक बड़ी कार्यवाही करते हुए दोषियों पर कड़ी से कड़ी कार्रवाई की जानी चाहिए ।जिससे कि आगामी इस तरह की घटनाओं की पुनरावृत्ति ना हो।  बसपा सरकार में बहन मायावती जिस सख्ती से काम करती थी, योगी जी उसी तरीके से काम करें। नहीं तो बसपा सरकार आएगी तब एसआईटी गठित कर जांच करवाई जाएगी.। 






Comments

Popular posts from this blog

रिजवान की मौत में आया नया मोड फैमिली डाक्टर अब्दुल हकीम ने बताया

टांडा कोतवाली क्षेत्र में रिजवान की मौत में आया नया मोड फैमिली डाक्टर अब्दुल हकीम ने बताया की 18अप्रैल को रिजवान की फुफी ने बताया की बाइक से गिरने से लगी है चोट जिसकी जिला अस्पताल में इलाज के दौरान  संदिग्ध  परिस्थितियों  में  हुई  22 वर्षीय युवक  के   मृत्यु  के   मामले  में मृतक के  पिता ने पुलिस की पिटाई के कारण मृत्यु होना बता कर पुलिस के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने की तहरीर दिया है। 

मौके का पुलिस अधीक्षक आलोक प्रियदर्शीएवं अपर पुलिस अधीक्षक अवनीश कुमार मिश्र ने निरीक्षण कर  जांचोपरांत कार्यवाही का आश्वासन दिया। पुलिस ने जहाँ पुलिस द्वारा  मारना पीटना बताया गया है ।उस घटनास्थल के आस पास लगे सीसी कैमरे  के फुटेज का निरीक्षण किया ।जिसमें किसी भी प्रकार की मार पीट की घटना दिखाई नही दे रही है । बैरहाल पुलिस हर बिंदुओं पर जांच कर रही है। शव का पोस्टमार्टम होने के बाद सुरक्षा व्यवस्था के बीच शव को मृतक के परिजनों को सौंप दिया गया। जिसके बाद बाद नमाज मगरिब शव को सलार गढ़ कब्रिस्तान में सुपुर्द ए खाक कर दिया गया। प्रशासन द्वारा सुपुर्द ए खाक में सीमित ही लोगों को जाने की अनुमति दी गई। इस मौके …

टाण्डा तहसील के शहर के नेहरू नगर मे 5 साल की बच्ची तृषा की रिपोर्ट आई पाज़िटिव

टाण्डा तहसील के नेहरू नगर में एक 5 साल की बच्ची तृषा पुत्री दिनेश कनौजिया करोना पाज़िटिव आई है। यह लोग मुंबई से चलकर इलाहाबाद आए थे ट्रेन से ।वहां से बस के द्वारा अकबरपुर आए थे। बच्ची को बुखार था प्राथमिक की स्क्रीनिंग में बच्चे को वहीं पर कोरंटाइन करा दिया गया था यह लोग 24 तारीख को यहां पर आए थे मौके पर टाण्डा एसडीएम अभिषेक पाठक व टाण्डा सीओ अमर बहादुर पहुंच कर एरिया को किया सील और लोगों से दूरी बनाने की अपील किया उसके बाद सीलिंग की कार्रवाई प्रारंभ होगी




यूपी के टॉप मोस्ट अपराधियों की बनाई गई लिस्ट

यूपी के टॉप मोस्ट अपराधियों की बनाई गई लिस्ट.

डीजीपी मुख्यालय ने बनाई 33 टॉप मोस्ट अपराधियों की लिस्ट.
लिस्ट में मुख्तार अंसारी, अतीक अहमद, ब्रजेश सिंह समेत 33 अपराधियों के नाम.

उत्तर प्रदेश में फिर शुरू होगा ऑपरेशन  क्लीन