Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Classic Header

{fbt_classic_header}

Breaking News

latest

25 वर्षीय युवक की हत्या कर गोमती में फेंका शव पुलिस कर रही तलाश।

 लगातार उत्तर प्रदेश अपराध प्रदेश बनता जा रहा है। ऐसे में अपराधियों एवँ अपराधों में अचानक बाढ़ सी आ गई है। जिस पर शासन और प्रशासन क...







 लगातार उत्तर प्रदेश अपराध प्रदेश बनता जा रहा है। ऐसे में अपराधियों एवँ अपराधों में अचानक बाढ़ सी आ गई है। जिस पर शासन और प्रशासन के स्तर पर कोई भी कंट्रोल नहीं लग पा रहा है। ऐसा ही एक मामला अमेठी जनपद के जामो थाना क्षेत्र से देखने को मिला है जहां पर 2 दिन पहले घर से शाम को निकले 25 वर्षीय युवक की हत्या आपसी रंजिश के कारण करके लाश को गोमती नदी में फेंक दिया गया। जिसकी तलाश अमेठी पुलिस के द्वारा लगातार की जा रही है । लाश को बरामद करने का प्रयास किया जा रहा है। लेकिन अभी भी लाश बरामद नहीं हो सका है।

दरअसल आपको बता दें कि अमेठी जनपद का बहुचर्चित थाना क्षेत्र जामो हमेशा सुर्खियों में बना रहता है। अभी कुछ दिन पहले मां बेटी के आत्मदाह के मामले को लेकर लगातार सुर्खियों में बना हुआ था। अभी हम मामला पूरी तरह ठंडा नहीं नहीं हो पाया था कि इसी थाना क्षेत्र के सूरतगढ़ गांव के रहने वाले नियाज अहमद ग्राम प्रधान सूरतगढ़ के छोटे भाई सलमान जिसकी 25 वर्ष उम्र थी वह अपने घर से 17 अगस्त की शाम को निकला । लेकिन जब रात भर वह वापस नहीं आया घर वालों की चिंता हुई घरवाले लगातार रिश्तेदारी तथा अन्य जगह पर उसकी तलाश करने लगे जब उसको कोई सुराग नहीं मिला तब उन्होंने सुबह जामों थाने को इस बात की सूचना दी और तभी घरवालों ने गांव के ही शशांक सिंह उर्फ शानू के ऊपर गायब करने तथा उसकी हत्या करने की आशंका जाहिर की। जिस पर पुलिस ने तत्काल मुकदमा अपराध संख्या 324 / 20 धारा 364 का मुकदमा पंजीकृत कर कार्रवाई शुरू कर दी। जैसे ही इसकी सूचना पुलिस अधीक्षक दिनेश सिंह को लगी उन्होंने तत्काल सर्विलांस टीम, स्वाट टीम और थाना जामो की चार टीमों का गठन कर सब को सलमान की खोज में लगा दिया । इसी के साथ संदिग्धों से पूछताछ तथा अन्य लोगों से जानकारी की जाने लगी तभी खास मुखबिर के द्वारा सूचना प्राप्त हुई कि सूरतगढ़ निवासी दिनेश सिंह द्वारा पिछले वर्ष हुए झगड़े की रंजिश के चलते अपने कुछ साथियों की मदद से सलमान को 17 अगस्त को ही गला दबाकर हत्या कर दी गई और उनके मृत शरीर को गोमती नदी में फेंक दिया गया। इस प्रकार की सूचना पर तत्काल आनन-फानन में नौकाओं तथा गोताखोरों की मदद से मृतक प्रमाण के मृत शरीर को बरामद करने के प्रयास शुरू कर दिए गए क्योंकि मामला दो समुदाय के बीच का है इसलिए गांव में भारी पुलिस बल तैनात कर दिया गया है । अभी शांति व्यवस्था कायम है वहीं पर पुलिस अधीक्षक ने मृत शरीर की बरामदगी व अभियुक्तों की गिरफ्तारी के लिए 6 टीमें सक्रिय कर दिया पिछले 3 घंटों से लगातार अमेठी पुलिस गोताखोरों की मदद से सलमान के मृत शरीर को बरामद करने में जुटी हुई है लेकिन अभी तक बरामदगी नहीं हो पाई है ।




No comments