Skip to main content

बलिया के वरिष्ठ पत्रकार रतन सिंह हत्या के विरोध में समाजवादी पार्टी ने मौन जुलूस निकाल कर सरकार से की मांग।




REPORT - DILEEP YADAV


कोरोनावायरस के फैली महामारी के मध्य जिस तरह से स्वास्थ्य कर्मी पुलिसकर्मी और सफाई कर्मी कोरोनावायरस के रूप में लड़ते नजर आए ठीक उसी प्रकार देश का चौथा स्तंभ माना जाने वाला मीडिया कर्मी भी अपनी जान की परवाह न करते हुए लोगों आवाज को सरकार तक पहुंचाने का काम किया और लगातार कर रहा है लेकिन दुख की बात यह है कि इन पत्रकारों का ख्याल किसी को भी नहीं है वह सरकार चाहे जिसकी हो सरकार के द्वारा इन को किसी भी प्रकार की सुविधा प्रदान की जाती है जैसे हर किसी के दोस्त और दुश्मन होते हैं वैसे पत्रकार के भी दोस्त और दुश्मन होते हैं इसमें कोई दो राय नहीं है लेकिन पत्रकारिता ऐसी चीज है जिसमें पत्रकारों के दुश्मनों की संख्या में तेजी से इजाफा हो जाता है वह हर पल शासन-प्रशासन सिस्टम और समाज से लड़ता रहता है इसके बावजूद उसके खाते में कुछ नहीं आता है इन्हीं सब बातों को ध्यान में रखते हुए अमेठी जनपद के समाजवादी पार्टी की जिला महिला महासचिव गुंजन सिंह के द्वारा अभी हाल में ही बलिया जनपद के वरिष्ठ पत्रकार रतन सिंह की हत्या के विरोध में कैंडल मार्च निकाला गया यह कैंडल मार्च अंबेडकर तिराहे से शुरू होकर अमेठी के गांधी चौक पर खत्म हुआ। लॉक डाउन की गाइडलाइन तथा सामाजिक दूरी का पालन करते हुए महात्मा गांधी जी की समाधि पर पहुंच कर मनवा शांति जरूर खत्म करने के बाद मीडिया से बात करते हुए उत्तर प्रदेश सरकार को आड़े हाथों लिया। जिला महिला महासचिव ने कहा कि पत्रकार हमारा देश का चौथा स्तंभ है। योगी की सरकार में पत्रकार ही असुरक्षित है उसकी हत्या हो जा रही है। उत्तर प्रदेश अब अपराध प्रदेश बन चुका है। इस को सुरक्षित रखना सरकार और शासन-प्रशासन सब का कर्तव्य है इसलिए सरकार को चाहिए कि पत्रकारों की सुरक्षा के लिए सामूहिक बीमा की व्यवस्था की जाए इसी के साथ पत्रकारों को शस्त्र लाइसेंस भी प्रदान किए जाए जिससे वह खुद भी अपनी सुरक्षा कर सकें।







Comments

Popular posts from this blog

रिजवान की मौत में आया नया मोड फैमिली डाक्टर अब्दुल हकीम ने बताया

टांडा कोतवाली क्षेत्र में रिजवान की मौत में आया नया मोड फैमिली डाक्टर अब्दुल हकीम ने बताया की 18अप्रैल को रिजवान की फुफी ने बताया की बाइक से गिरने से लगी है चोट जिसकी जिला अस्पताल में इलाज के दौरान  संदिग्ध  परिस्थितियों  में  हुई  22 वर्षीय युवक  के   मृत्यु  के   मामले  में मृतक के  पिता ने पुलिस की पिटाई के कारण मृत्यु होना बता कर पुलिस के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने की तहरीर दिया है। 

मौके का पुलिस अधीक्षक आलोक प्रियदर्शीएवं अपर पुलिस अधीक्षक अवनीश कुमार मिश्र ने निरीक्षण कर  जांचोपरांत कार्यवाही का आश्वासन दिया। पुलिस ने जहाँ पुलिस द्वारा  मारना पीटना बताया गया है ।उस घटनास्थल के आस पास लगे सीसी कैमरे  के फुटेज का निरीक्षण किया ।जिसमें किसी भी प्रकार की मार पीट की घटना दिखाई नही दे रही है । बैरहाल पुलिस हर बिंदुओं पर जांच कर रही है। शव का पोस्टमार्टम होने के बाद सुरक्षा व्यवस्था के बीच शव को मृतक के परिजनों को सौंप दिया गया। जिसके बाद बाद नमाज मगरिब शव को सलार गढ़ कब्रिस्तान में सुपुर्द ए खाक कर दिया गया। प्रशासन द्वारा सुपुर्द ए खाक में सीमित ही लोगों को जाने की अनुमति दी गई। इस मौके …

टाण्डा तहसील के शहर के नेहरू नगर मे 5 साल की बच्ची तृषा की रिपोर्ट आई पाज़िटिव

टाण्डा तहसील के नेहरू नगर में एक 5 साल की बच्ची तृषा पुत्री दिनेश कनौजिया करोना पाज़िटिव आई है। यह लोग मुंबई से चलकर इलाहाबाद आए थे ट्रेन से ।वहां से बस के द्वारा अकबरपुर आए थे। बच्ची को बुखार था प्राथमिक की स्क्रीनिंग में बच्चे को वहीं पर कोरंटाइन करा दिया गया था यह लोग 24 तारीख को यहां पर आए थे मौके पर टाण्डा एसडीएम अभिषेक पाठक व टाण्डा सीओ अमर बहादुर पहुंच कर एरिया को किया सील और लोगों से दूरी बनाने की अपील किया उसके बाद सीलिंग की कार्रवाई प्रारंभ होगी




यूपी के टॉप मोस्ट अपराधियों की बनाई गई लिस्ट

यूपी के टॉप मोस्ट अपराधियों की बनाई गई लिस्ट.

डीजीपी मुख्यालय ने बनाई 33 टॉप मोस्ट अपराधियों की लिस्ट.
लिस्ट में मुख्तार अंसारी, अतीक अहमद, ब्रजेश सिंह समेत 33 अपराधियों के नाम.

उत्तर प्रदेश में फिर शुरू होगा ऑपरेशन  क्लीन