Skip to main content

जिला अस्पताल के नवनिर्मित भवन में तैयार हुआ कोविड L-2 हॉस्पिटल।






REPORT -  DILEEP YADAV

- कोरोनावायरस से फैली महामारी की बढ़ती हुई संक्रामकता को दृष्टिगत रखते हुए अमेठी जनपद के स्वास्थ्य विभाग ने सीमित संसाधनों के मध्य कड़ी मशक्कत कर जिले में कोविड L-2 हॉस्पिटल डेवलप किया है। अभी तक जनपद में सिर्फ L1 हॉस्पिटल की सुविधा थी । जिसमें पूरे जिले में L1 अस्पताल में कुल 930 बेड उपलब्ध है। जहां पर कोरोनावायरस से संक्रमित हुए लोगों का प्राथमिक उपचार किया जाता था । इसकी गंभीर होने के बाद ऐसे संक्रमित मरीजों को भी लेकर बाहर अंबेडकर नगर स्थित L2 हॉस्पिटल भेजा जाता था। जहां पर मरीज को पहुंचने में  लगभग 2:30 से 3 घंटे लग जाते थे । जिसके चलते कभी-कभी गंभीर अवस्था में मरीज की मृत्यु हो जाती है । ऐसी मौतों को रोकने के लिए स्वास्थ्य विभाग ने जिला प्रशासन के सहयोग से जिले के मलिक मोहम्मद जायसी संयुक्त जिला चिकित्सालय के नवनिर्मित भवन जिसमें अभी तक L1 हॉस्पिटल संचालित था। अब उसी ऊपरी मंजिल में L2 हॉस्पिटल डेवलप कर दिया गया है । यह हॉस्पिटल 100 बेड का है। इसमें कोरोनावायरस के अत्यंत गंभीर स्थिति वाले रोगी भर्ती हो सकेंगे और उनका माकूल ढंग से इलाज हो सकेगा। इसमें आवश्यक सभी सुविधाएं उपलब्ध कराई गई हैं। जिसमें सरकार के द्वारा उपलब्ध कराए गए अन्य आवश्यक सुविधाओं सहित 10 वेंटिलेटर सहित 14 आईसीयू बेड की सुविधा भी उपलब्ध है।

वीओ- इस संबंध में मुख्य चिकित्सा अधिकारी राजेश मोहन श्रीवास्तव से जब बात की गई तो उन्होंने बताया कि मलिक मोहम्मद जायसी संयुक्त चिकित्सालय गौरीगंज में पहले 100 बेड का L1 हॉस्पिटल चल रहा था। मरीजों की स्थिति जब गंभीर होती थी तब उनको हम अंबेडकर नगर मेडिकल कॉलेज में रेफर कर दिया करते थे। जहां पर 2:30 से 3 घंटे मरीज को पहुंचने में लगता था। मरीज को कठिनाई होती थी तथा मरीज की डेथ होने पर हमें कष्ट होता है। इसलिए हमने L2 का निर्माण करा लिया है। L2 हॉस्पिटल हमारा तैयार है। इसमें हमारे 14 बेड आईसीयू के हैं वेंटिलेटर हमारे क्रियाशील हैं डॉक्टरों की टीम को प्रशिक्षित किया जा चुका है दवा सब उपलब्ध है । अब हम अपने जनपद के मरीजों को L1 हॉस्पिटल के अटैच में रखेंगे। जिस की स्थिति गंभीर होगी उसको हम ऊपर ले जाकर भर्ती करेंगे। ऊपर हमारा 100 बेड का L2 अस्पताल तैयार है। वहां पर हम उनको बेहतर इलाज उपलब्ध कराएंगे और इससे मृत्यु दर कम करने का प्रयास करेंगे । जिससे उनकी डेथ ना होने पाए मेरा प्रयास है कि सभी बचे हैं। जिले में कोरोनावायरस से किसी भी प्रकार की कोई कैजुअल्टी ना होने पाए





Comments

Popular posts from this blog

रिजवान की मौत में आया नया मोड फैमिली डाक्टर अब्दुल हकीम ने बताया

टांडा कोतवाली क्षेत्र में रिजवान की मौत में आया नया मोड फैमिली डाक्टर अब्दुल हकीम ने बताया की 18अप्रैल को रिजवान की फुफी ने बताया की बाइक से गिरने से लगी है चोट जिसकी जिला अस्पताल में इलाज के दौरान  संदिग्ध  परिस्थितियों  में  हुई  22 वर्षीय युवक  के   मृत्यु  के   मामले  में मृतक के  पिता ने पुलिस की पिटाई के कारण मृत्यु होना बता कर पुलिस के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने की तहरीर दिया है। 

मौके का पुलिस अधीक्षक आलोक प्रियदर्शीएवं अपर पुलिस अधीक्षक अवनीश कुमार मिश्र ने निरीक्षण कर  जांचोपरांत कार्यवाही का आश्वासन दिया। पुलिस ने जहाँ पुलिस द्वारा  मारना पीटना बताया गया है ।उस घटनास्थल के आस पास लगे सीसी कैमरे  के फुटेज का निरीक्षण किया ।जिसमें किसी भी प्रकार की मार पीट की घटना दिखाई नही दे रही है । बैरहाल पुलिस हर बिंदुओं पर जांच कर रही है। शव का पोस्टमार्टम होने के बाद सुरक्षा व्यवस्था के बीच शव को मृतक के परिजनों को सौंप दिया गया। जिसके बाद बाद नमाज मगरिब शव को सलार गढ़ कब्रिस्तान में सुपुर्द ए खाक कर दिया गया। प्रशासन द्वारा सुपुर्द ए खाक में सीमित ही लोगों को जाने की अनुमति दी गई। इस मौके …

टाण्डा तहसील के शहर के नेहरू नगर मे 5 साल की बच्ची तृषा की रिपोर्ट आई पाज़िटिव

टाण्डा तहसील के नेहरू नगर में एक 5 साल की बच्ची तृषा पुत्री दिनेश कनौजिया करोना पाज़िटिव आई है। यह लोग मुंबई से चलकर इलाहाबाद आए थे ट्रेन से ।वहां से बस के द्वारा अकबरपुर आए थे। बच्ची को बुखार था प्राथमिक की स्क्रीनिंग में बच्चे को वहीं पर कोरंटाइन करा दिया गया था यह लोग 24 तारीख को यहां पर आए थे मौके पर टाण्डा एसडीएम अभिषेक पाठक व टाण्डा सीओ अमर बहादुर पहुंच कर एरिया को किया सील और लोगों से दूरी बनाने की अपील किया उसके बाद सीलिंग की कार्रवाई प्रारंभ होगी




यूपी के टॉप मोस्ट अपराधियों की बनाई गई लिस्ट

यूपी के टॉप मोस्ट अपराधियों की बनाई गई लिस्ट.

डीजीपी मुख्यालय ने बनाई 33 टॉप मोस्ट अपराधियों की लिस्ट.
लिस्ट में मुख्तार अंसारी, अतीक अहमद, ब्रजेश सिंह समेत 33 अपराधियों के नाम.

उत्तर प्रदेश में फिर शुरू होगा ऑपरेशन  क्लीन