Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Classic Header

{fbt_classic_header}

Breaking News

latest

जिला अस्पताल के नवनिर्मित भवन में तैयार हुआ कोविड L-2 हॉस्पिटल।

REPORT -  DILEEP YADAV - कोरोनावायरस से फैली महामारी की बढ़ती हुई संक्रामकता को दृष्टिगत रखते हुए अमेठी जनपद के स्वास्थ्य विभाग ने...






REPORT -  DILEEP YADAV

- कोरोनावायरस से फैली महामारी की बढ़ती हुई संक्रामकता को दृष्टिगत रखते हुए अमेठी जनपद के स्वास्थ्य विभाग ने सीमित संसाधनों के मध्य कड़ी मशक्कत कर जिले में कोविड L-2 हॉस्पिटल डेवलप किया है। अभी तक जनपद में सिर्फ L1 हॉस्पिटल की सुविधा थी । जिसमें पूरे जिले में L1 अस्पताल में कुल 930 बेड उपलब्ध है। जहां पर कोरोनावायरस से संक्रमित हुए लोगों का प्राथमिक उपचार किया जाता था । इसकी गंभीर होने के बाद ऐसे संक्रमित मरीजों को भी लेकर बाहर अंबेडकर नगर स्थित L2 हॉस्पिटल भेजा जाता था। जहां पर मरीज को पहुंचने में  लगभग 2:30 से 3 घंटे लग जाते थे । जिसके चलते कभी-कभी गंभीर अवस्था में मरीज की मृत्यु हो जाती है । ऐसी मौतों को रोकने के लिए स्वास्थ्य विभाग ने जिला प्रशासन के सहयोग से जिले के मलिक मोहम्मद जायसी संयुक्त जिला चिकित्सालय के नवनिर्मित भवन जिसमें अभी तक L1 हॉस्पिटल संचालित था। अब उसी ऊपरी मंजिल में L2 हॉस्पिटल डेवलप कर दिया गया है । यह हॉस्पिटल 100 बेड का है। इसमें कोरोनावायरस के अत्यंत गंभीर स्थिति वाले रोगी भर्ती हो सकेंगे और उनका माकूल ढंग से इलाज हो सकेगा। इसमें आवश्यक सभी सुविधाएं उपलब्ध कराई गई हैं। जिसमें सरकार के द्वारा उपलब्ध कराए गए अन्य आवश्यक सुविधाओं सहित 10 वेंटिलेटर सहित 14 आईसीयू बेड की सुविधा भी उपलब्ध है।

वीओ- इस संबंध में मुख्य चिकित्सा अधिकारी राजेश मोहन श्रीवास्तव से जब बात की गई तो उन्होंने बताया कि मलिक मोहम्मद जायसी संयुक्त चिकित्सालय गौरीगंज में पहले 100 बेड का L1 हॉस्पिटल चल रहा था। मरीजों की स्थिति जब गंभीर होती थी तब उनको हम अंबेडकर नगर मेडिकल कॉलेज में रेफर कर दिया करते थे। जहां पर 2:30 से 3 घंटे मरीज को पहुंचने में लगता था। मरीज को कठिनाई होती थी तथा मरीज की डेथ होने पर हमें कष्ट होता है। इसलिए हमने L2 का निर्माण करा लिया है। L2 हॉस्पिटल हमारा तैयार है। इसमें हमारे 14 बेड आईसीयू के हैं वेंटिलेटर हमारे क्रियाशील हैं डॉक्टरों की टीम को प्रशिक्षित किया जा चुका है दवा सब उपलब्ध है । अब हम अपने जनपद के मरीजों को L1 हॉस्पिटल के अटैच में रखेंगे। जिस की स्थिति गंभीर होगी उसको हम ऊपर ले जाकर भर्ती करेंगे। ऊपर हमारा 100 बेड का L2 अस्पताल तैयार है। वहां पर हम उनको बेहतर इलाज उपलब्ध कराएंगे और इससे मृत्यु दर कम करने का प्रयास करेंगे । जिससे उनकी डेथ ना होने पाए मेरा प्रयास है कि सभी बचे हैं। जिले में कोरोनावायरस से किसी भी प्रकार की कोई कैजुअल्टी ना होने पाए





No comments