Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Classic Header

{fbt_classic_header}

Breaking News

latest

छपरौली पुलिस ने दो आरोपी गिरफ्तार किए

रिपोर्ट:--- वीरेंद्र तोमर बागपत  बागपत जिले के छपरौली थाना क्षेत्र में हुई बीजेपी नेता व पूर्व जिला अध्यक्ष संजय खोखर की हत्या क...



रिपोर्ट:--- वीरेंद्र तोमर बागपत






 बागपत जिले के छपरौली थाना क्षेत्र में हुई बीजेपी नेता व पूर्व जिला अध्यक्ष संजय खोखर की हत्या की सनसनीखेज वारदात के मामले में पुलिस ने हत्या के दो आरोपियों को गिरफ्तार कर पूरी वारदात का खुलासा कर दिया हत्या की वारदात को अंजाम 2018 में हुई झगड़े के चलते चली आ रही रंजिश दिया गया था फिलहाल पुलिस ने दो आरोपियो को गिरफ्तार कर उनके कब्जे से एक तमंचा मय कारतूस के बरामद किया है तो वही पुलिस के खुलासे पर आरोपीयों के परिजनों ने सवाल खड़े करते हुए युवको को निर्दोष बताया है


दरअसल आपको बता दे कि कल यानि 11 अगस्त की सुबह को छपरौली थाना क्षेत्र में बीजेपी नेता व पूर्व जिला अध्यक्ष संजय खोखर की अज्ञात बदमाशों ने गोली मारकर हत्या कर दी थी जिसके बाद बागपत से लेकर लखनऊ तक हड़कम्प मच गया था और पूरी वारदात को लेकर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आरोपियों के खिलाफ 24 घण्टे में सख्त कार्रवाई करने के आदेश दिए थे और म्रतक संजय खोखर के बेटे ने तहरीर देकर 4 युवको नितिन धनकड़ , मयंक डालर ,  विनित ,अंकुश शर्मा व एक अज्ञात युवक के खिलाफ थाना छपरौली में धारा 302 , 147,148,149 के तहत मुकद्दमा दर्ज कराया था जिसके बाद से ही मामले की तफ्तीश में जुटी छपरौली थाना पुलिस ने 24 घण्टे के अंदर ही दो आरोपियो अंकुश ओर मयंक को गिरफ्तार कर उनके कब्जे से एक तमंचा 315 बोर मय दो जिंदा कारतूस के बरामद किया है हत्या की वारदात को अंजाम दो साल पहले हुई झगड़े में रंजिश के चलते दिया था


वहीं आपको बता दे कि एक तरफ जहां छोटी मोटी चोरी की घटनाओं पर भी अपनी पीठ थप थपाकर  वाहवाही लूटने वाली बागपत पुलिस ने इतनी बड़ी वारदात की प्रेसवार्ता बुलाना दो दूर की बात है  आरोपियो को मीडिया के सामने भी नही लाया गया और खुद ही आरिपियो कि वीडियो बनवाकर भेज दी और पुलिस अधीक्षक ने अपना बयान भी रिकॉर्ड कर मीडिया तक पहुंचा दिया है




वही छपरौली थाना क्षेत्र में हुई बीजेपी नेता संजय खोखर की हत्या की सनसनीखेज वारदात के बाद जहां मृतक के बेटे अक्षय खोखर ने थाने में तहरीर देकर सन 2018 में हुए झगड़े के एक मामले की रंजिश बताते हुए चार युवको नितिन धनकड़ , मइनके डालर , विनीत , अंकुश शर्मा व एक अज्ञात के खिलाफ मुकद्दमा दर्ज कराया था उसका कहना है कि उसे इन युवको की तरफ से शोसल मीडिया पर जान से मारने की धमकियां मिल रही थी ओर उनके पिता संजय खोखर को भी खतरा बना हुआ था जिसके चलते ही वे पिछले काफी समय से सुरक्षा की मांग कर रहे थे लेकिन उन्हें सुरक्षा नही दी गई थी और उसके पिता संजय खोखर छपरौली विधानसभा क्षेत्र से चुनाव लड़ना भी चाहते थे





वही दूसरी तरफ बीजेपी नेता की हत्या की वारदात में नामजद ओर गिरफ्तार युवको के परिजनों का आरोप है कि उन्होंने नही की संजय खोखर की हत्या और ओर उनके लड़को को बेवजह फंसाया जा रहा है उनका कहना है की सन 2018 में मामूली विवाद को।लेकर उनके उनके बच्चो का झगड़ा हो गया था जिसमे नितिन का भाई विकास घायल हो गया था जिसकी आज भी हालत खराब है और झगड़े के मामले में फैंसला करने की बात चल रही थी और लोक डाउन होने की वजह से कोर्ट बन्द होने के कारण उनका फैंसला नही हो पाया था उन्होंने कहा कि संजय खोखर बहुत अच्छे इंसान थे ओर उनकी हत्या उन्होंने नही की है इसलिए हम सरकार से निष्पक्ष जांच कर कार्रवाई की मांग करते है




No comments