Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Classic Header

{fbt_classic_header}

Breaking News

latest

बागपत में बढ़ता अपराध नही कोई कानून का डर

रिपोर्ट:---- वीरेंद्र तोमर बागपत  यूपी के बागपत जिले में हुई बीजेपी नेता व पूर्व अध्यक्ष संजय खोखर की हत्या की वारदात के मामले ओर जनपद बागपत...



रिपोर्ट:---- वीरेंद्र तोमर बागपत 




यूपी के बागपत जिले में हुई बीजेपी नेता व पूर्व अध्यक्ष संजय खोखर की हत्या की वारदात के मामले ओर जनपद बागपत बढ़ते अपराधों को।लेकर कई बड़े सवाल खड़े करते हुए एसपी बागपत की मिलीभगत के चलते संजय खोखर की हत्या की वारदात के मामले में तिहाड़ जेल में बन्द पश्चिमी यूपी के कुख्यात बदमाश सुनील राठी पर टेरर फैलाने के लिए हत्या कराने का आरोप लगाते हुए प्रदेश सरकार से मामले की उच्चस्तरीय जांच कराने की मांग की है 



दरअसल बीजेपी के बागपत जिले की बागपत विधानसभा से विधायक योगेश धामा ने आज जिला पंचायत कार्यालय में एक प्रेसवार्ता बुलाई थी जिसमे उन्होंने मीडिया के कैमरों पर साफ - साफ बोलते हुए कहा है कि तिहाड़ जेल में बैठा कुख्यात अपराधी सुनील राठी जिले में टेरर फैलाने के लिए हत्याएं करा रहा है और वह जनपद में अवैध खनन समेत सभी अवैध काम कराना चाहता है जिसके साथ बागपत पुलिस के कप्तान अजय कुमार सिंह की भी मिली भगत है ओर सुनील राठी ने टेरर फैलाने के लिए पहले तो परमवीर ओर ईंट भट्ठा मालिक देशपाल की हत्या कराई ओर अब बीजेपी के पूर्व अध्यक्ष संजय खोखर की भी हत्या कराने में सुनील राठी का ही हाथ है उन्होंने कहा कि जब से एसपी अजय कुमार बागपत में आये है तब से ही जिले में अपराध बढ़ते ही जा रहे है क्योंकि अपराधियो को कप्तान ने सरक्षण दे रखा है ओर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अपराधियों के शस्त्र लाइसेंस को निरस्त करने के आदेश दिए हुए है लेकिन एसपी बागपत ने सुनील राठी की मां राजबाला का शस्त्र लाइसेंस निरस्त नही किया बल्कि उसे निलंबित किया है उन्होंने कहा कि संजय खिखर की हत्या के मामले में थाना अध्यक्ष दिनेश चिकारा ने पीड़ितों से गलत तरीके से बेगुनाह लोगो को नामजद कराया था इसलिए पूरे मामले की उच्चस्तरीय जांच कराने 



 आपको बता दे कि छपरौली थाना क्षेत्र में 11 अगस्त की सुबह बीजेपी नेता व पूर्व जिला अध्यक्ष संजय खोखर की अज्ञात बदमाशों ने उस वक्त गोली मारकर हत्या कर दी थी जब वे मॉर्निंग वॉक पर खेतो की तरफ गए थे और उनकी हत्या की वारदात के बाद बागपत से लेकर लखनऊ तक हड़कम्प मच गया था ओर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने 24 घण्टे में आरोपियो के विरुद्ध कार्रवाई करने के सख्त आदेशो के बाद पुलिस ने हत्या के मामले में नामजद दो आरोपियों मयंक व अंकुश को गिरफ्तार कर खुलासा कर दिया था 






No comments