Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Classic Header

{fbt_classic_header}

Breaking News

latest

_मोस्ट कल्याण संस्थान के तत्वाधान में मनाई गई फूलन देवी की जयंती_

  फूलन देवी के जीवन संघर्ष और दर्शन (फिलॉस्पी) से जीवन संघर्ष की प्रेरणा मिलती है-श्यामलाल  सुलतानपुर। आज दिनाँक 10-08-2020 को मोस्ट कल्याण ...

 

फूलन देवी के जीवन संघर्ष और दर्शन (फिलॉस्पी) से जीवन संघर्ष की प्रेरणा मिलती है-श्यामलाल 


सुलतानपुर। आज दिनाँक 10-08-2020 को मोस्ट कल्याण संस्थान उ.प्र. के तत्वाधान में सामाजिक न्याय की प्रतीक वीरांगना फूलन देवी का जयंती कार्यक्रम अंशू निषाद (रतनपुर) के नेतृत्व में कार्यक्रम का प्रारम्भ लॉकडाउन के नियमों का पालन करते हुए प्रतीकात्मक रूप से  जनपद मुख्यालय तिकोनिया से प्रारम्भ हुआ किन्तु तिकोनिया पार्क क्षेत्र हाट स्पॉट घोषित होने के कारण वक्ताओं का संबोधन और मोस्ट साथियों को सम्मानित करने का कार्य निषाद भवन विनोवापुरी में सम्पन्न हुआ।

          वीरांगना फूलन देवी से सम्बंधित कार्यक्रमों के प्रचार-प्रसार में विशेष भूमिका निभाने के लिए इ. शिवराज निषाद, राकेश निषाद, बृजेश निषाद को मोस्ट कल्याण संस्थान द्वारा भारत के संविधान की प्रति देकर सम्मानित किया गया।

          मोस्ट कल्याण संस्थान के निदेशक शिक्षक श्यामलाल निषाद "गुरुजी" ने कहा कि हम वीरांगना फूलन देवी से जुड़ी महत्वपूर्ण तारीखों को शोषितों, पीड़ितों और अभावग्रस्त जीवन यापन करने वालों के मानसिक पटल पर रखकर उन्हें मजबूत और स्वाभिमानी समाज का अंग बनाना है। इसलिए हम लोग प्रयासरत हैं कि वीरांगना फूलन देवी के दर्शन (फिलास्पी) और संघर्ष की व्यापक स्तर पर चर्चा चलती रहे।

          डिप्टी डायरेक्टर "बौद्धाचार्य" राजकुमार गौतम ने आज से 31 अगस्त (पूरे 22 दिन) तक वीरांगना की जयंती कार्यक्रम प्रत्येक गाँव-क्षेत्र में सामाजिक चिंतकों से मनाने व मनवाने के लिए प्रोत्साहित करने की अपील की।

          जिला संयोजक जीशान अहमद ने वीरांगना फूलन देवी के सपनों को साकार करने के लिए मोस्ट समर्थकों से जयंती के सहारे जागरूकता तथा मोस्ट बहुजन जोड़ो कार्यक्रम साथ-साथ चलाये जाने की अपील की।

          जयंती कार्यक्रम में  शिक्षक दिनेश सोनकर, महादेव निषाद, से.नि. एडीओ पंचायत भारत राम बौद्ध, अमृतलाल निषाद, रोशन निषाद, गुरुदीन, राकेश कुमार निषाद, हरि प्रसाद निषाद, अमर सिंह निषाद, सर्वेश कुमार निषाद, हरिश्चन्द्र निषाद, अरविन्द निषाद, विजय वर्मा, ज्ञानेन्द्र प्रताप, जय प्रकाश निषाद, उमेश निषाद, अखिलेश, राम उजागिर नेवी वाले, हरिश्चन्द्र निषाद (प्रबन्धक), से.नि. नेवी रामलौट बौद्ध, अखिलेश यादव, विपिन यादव सहित सैकड़ों लोग मौजूद रहे।





No comments