Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Classic Header

{fbt_classic_header}

Breaking News

latest

परतापुर में एसटीएफ का छापा, एनसीईआरटी की 35 करोड़ की नकली किताबें बरामद, मौके से एक दर्जन युवकों को किया गिरफ्तार

मेरठ की एसटीएफ टीम ने परतापुर पुलिस के साथ मिलकर परतापुर क्षेत्र में अवैध तरीके से चल रही प्रिंटिंग प्रेस पर छापा मारा। इस दौरान *NCER...




मेरठ की एसटीएफ टीम ने परतापुर पुलिस के साथ मिलकर परतापुर क्षेत्र में अवैध तरीके से चल रही प्रिंटिंग प्रेस पर छापा मारा। इस दौरान *NCERT* की करीब 35 करोड़ की नकली किताबें और 6 प्रिंटिंग मशीन बरामद की है। टीम ने मौके से एक दर्जन लोगों को हिरासत में ले लिया। एसएसपी अजय साहनी ने बताया कि इन नकली किताबों की सप्लाई उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, दिल्ली सहित कई राज्यों में की जा रही थी।


एसटीएफ और मेरठ पुलिस ने जब संयुक्त छापेमारी की तो गोदाम में किताबों की बाइंडिंग चल रही थी। पुलिस को देख वहां काम कर रहे कुछ लोग भाग गए। जबकि अन्य एक दर्जन आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया। प्रकाशक के यहां से 35 करोड की किताबें बरामद कीं गई हैं। पूछताछ में पता चला कि किताबें प्रकाशित कर दूसरे राज्यों और जिलों में भेजी जाती थी। अधिकांश किताबें 9 से 12वीं तक की फिजिक्स, केमेस्ट्री और मैंथ की हैं। वहीं देर शाम तक एनसीईआरटी का कोई अधिकारी मौके पर नहीं पहुंचा। एनसीईआरटी का देशभर में एक ही कोर्स है। जिसके प्रकाशन का अधिकार दिल्ली के कुछ चुनिंदा प्रकाशकों को ही है। कुछ प्रकाशक किताबों का फर्जी तरीके से प्रकाशन कर रहे हैं।
आसान है किताबों का प्रकाशन
एनसीईआरटी की किताबें नेट पर डाउनलोड हैं। विशेषज्ञों का कहना है कि किताबों का नेट से प्रिंट लेकर निगेटिव तैयार कराकर प्रकाशन किया जा रहा था। अपने फायदे के लिए दुकानदार इस धंधे का बढ़ावा दे रहे हैं।




No comments