Skip to main content

अवैध सम्बन्धो के चलते बेटों ने की पिता की हत्या




 पुलिस ने ककौर खुर्द गांव के सोहनपाल हत्याकांड का सनसनीखेज राजफाश कर दिया है। पुलिस का दावा है कि सोहनपाल के अपनी ही पुत्रवधू के साथ अवैध संबंध थे और इसी से बौखलाकर सोहनपाल के दो बेटों ने अपने पिता को मौत के घाट उतार दिया ओर शव को यमुना नदी में बहा दिया। पुत्रवधू और दोनों बेटों को गिरफ्तार कर अदालत में पेश किया, जहां से दोनों को जेल भेज दिया गया है।


दरअसल आपको बता दे कि मामला छपरौली थाना क्षेत्र का है जहां 18 सितंबर को थाना पुलिस को सूचना मिली थी एक ही परिवार के पांच लोग लापता हो गए है जिसके बाद से मामले की तफ्तीश में जुटी पुलिस को उनके घर से हत्या की वारदात होने के सुबूत मिले थे जिसके चलते ही पुलिस ने जंगलो में वह आयशर ट्रैक्टर भी बारमद कर लिया था जिसपर खून के निशान पाए गए थे और पुलिस लापता लोगो की तलाश में ही जुटी थी कि पुलिस ने दो सगे भाइयों और एक युवक की पत्नी को गिरफ्तार कर लिया था जिन्होंने पुलिस को बताया कि पत्नी के साथ उनके पिता के अवैध सम्बंध थे इसलिए उसकी हत्या कर शव को यमुना में फेंककर फरार हो गए थे ।


जी हां एसपी बागपत ने बताया कि ककौर खुर्द गांव में 18 सितंबर की रात धर्मेंद्र और पंकज ने घर पर ही अपने पिता सोहनपाल को मौत के घाट उतार दिया था। वारदात में साथ धर्मेंद्र की पत्नी ललिता ने भी दिया था। घटना के बाद धर्मेंद्र और पंकज का चाचा जगपाल भी जाग गया था, जिसके बाद दोनों ने जगपाल को धमकी दी थी कि यदि सोहनपाल का शव वह यमुना नदी में फिकवाने नहीं गया तो वे उसकी भी हत्या कर देंगे। उसके बाद जगपाल भी उनके साथ जाने को तैयार हो गया। धर्मेंद्र, पंकज, ललिता और जगपाल सोहनपाल के शव को ट्रैक्टर में रखकर नदी पर ले गए और शव को नदी में फेंक दिया। इसी दौरान जगपाल अपनी हत्या के डर से वहां से फरार हो गया था। घटना के तीन दिन बाद जगपाल ने पुलिस को सारा वाकया बताते हुए अपने भतीजे धर्मेंद्र, पंकज और धर्मेंद्र की पत्नी ललिता के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया गया था, जिसके बाद पुलिस ने धर्मेंद्र, पंकज और ललिता को गिरफ्तार कर लिया था।


अवैध सम्बंध बने थे हत्या का कारण ---


एसपी ने बताया कि सोहनपाल अपने बेटे पंकज की पत्नी पर बुरी नजर रखता था, जिसके बाद वह सोहनपाल से अलग रहने लगी थी। उसके बाद सोहनपाल के अपने दूसरे बेटे धर्मेंद्र की पत्नी ललिता से अवैध संबंध हो गए। ललिता अपने पति धर्मेंद्र की नहीं बल्कि अपने ससुर सोहनपाल की बात मानती थी। धर्मेंद्र को शक हो गया था और उसने दोनों को आपत्तिजनक स्थिति में भी देखा था। उसके बाद धर्मेंद्र ने अपने भाई के साथ मिलकर पिता की हत्या की योजना बनाई थी और जबरन अपनी पत्नी ललिता को भी शामिल कर लिया था।










रिपोर्ट वीरेंद्र तोमर बागपत





Comments

Popular posts from this blog

रिजवान की मौत में आया नया मोड फैमिली डाक्टर अब्दुल हकीम ने बताया

टांडा कोतवाली क्षेत्र में रिजवान की मौत में आया नया मोड फैमिली डाक्टर अब्दुल हकीम ने बताया की 18अप्रैल को रिजवान की फुफी ने बताया की बाइक से गिरने से लगी है चोट जिसकी जिला अस्पताल में इलाज के दौरान  संदिग्ध  परिस्थितियों  में  हुई  22 वर्षीय युवक  के   मृत्यु  के   मामले  में मृतक के  पिता ने पुलिस की पिटाई के कारण मृत्यु होना बता कर पुलिस के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने की तहरीर दिया है। 

मौके का पुलिस अधीक्षक आलोक प्रियदर्शीएवं अपर पुलिस अधीक्षक अवनीश कुमार मिश्र ने निरीक्षण कर  जांचोपरांत कार्यवाही का आश्वासन दिया। पुलिस ने जहाँ पुलिस द्वारा  मारना पीटना बताया गया है ।उस घटनास्थल के आस पास लगे सीसी कैमरे  के फुटेज का निरीक्षण किया ।जिसमें किसी भी प्रकार की मार पीट की घटना दिखाई नही दे रही है । बैरहाल पुलिस हर बिंदुओं पर जांच कर रही है। शव का पोस्टमार्टम होने के बाद सुरक्षा व्यवस्था के बीच शव को मृतक के परिजनों को सौंप दिया गया। जिसके बाद बाद नमाज मगरिब शव को सलार गढ़ कब्रिस्तान में सुपुर्द ए खाक कर दिया गया। प्रशासन द्वारा सुपुर्द ए खाक में सीमित ही लोगों को जाने की अनुमति दी गई। इस मौके …

टाण्डा तहसील के शहर के नेहरू नगर मे 5 साल की बच्ची तृषा की रिपोर्ट आई पाज़िटिव

टाण्डा तहसील के नेहरू नगर में एक 5 साल की बच्ची तृषा पुत्री दिनेश कनौजिया करोना पाज़िटिव आई है। यह लोग मुंबई से चलकर इलाहाबाद आए थे ट्रेन से ।वहां से बस के द्वारा अकबरपुर आए थे। बच्ची को बुखार था प्राथमिक की स्क्रीनिंग में बच्चे को वहीं पर कोरंटाइन करा दिया गया था यह लोग 24 तारीख को यहां पर आए थे मौके पर टाण्डा एसडीएम अभिषेक पाठक व टाण्डा सीओ अमर बहादुर पहुंच कर एरिया को किया सील और लोगों से दूरी बनाने की अपील किया उसके बाद सीलिंग की कार्रवाई प्रारंभ होगी




यूपी के टॉप मोस्ट अपराधियों की बनाई गई लिस्ट

यूपी के टॉप मोस्ट अपराधियों की बनाई गई लिस्ट.

डीजीपी मुख्यालय ने बनाई 33 टॉप मोस्ट अपराधियों की लिस्ट.
लिस्ट में मुख्तार अंसारी, अतीक अहमद, ब्रजेश सिंह समेत 33 अपराधियों के नाम.

उत्तर प्रदेश में फिर शुरू होगा ऑपरेशन  क्लीन