Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Classic Header

{fbt_classic_header}

Breaking News

latest

अलीगढ़ माता-पिता ने साथ ले जाने से किया इनकार, 9 साल की मासूम बच्ची ने लगाई फांसी

माता-पिता द्वारा किराए का कमरा देखने जाते वक्त माता पिता के साथ जाने की जिद कर रही 9 साल की मासूम बच्ची को साथ ले जाने से इंकार कर दिय...



माता-पिता द्वारा किराए का कमरा देखने जाते वक्त माता पिता के साथ जाने की जिद कर रही 9 साल की मासूम बच्ची को साथ ले जाने से इंकार कर दिया और घर पर रहने के लिए कहा तो मासूम बच्ची ने घर के अंदर फांसी का फंदा लगाकर की आत्महत्या

 उत्तर प्रदेश के जनपद अलीगढ़ के थाना बन्नादेवी इलाके के नलकूप कालोनी के अंदर 9 वर्षीय मासूम बच्ची ने घर का दरवाजा बंद कर घर के अंदर लगी खूंटी पर दुपट्टे से फांसी का फंदा बनाकर फांसी के फंदे पर झूलते हुए फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। वहीं 9 वर्षीय मासूम बच्ची इस बात से नाराज थी कि उसके माता-पिता किराए का मकान देखने के लिए जा रहे थे और बेटी के द्वारा ज़िद करने के बाद भी माता पिता अपनी बेटी बेबो को अपने साथ लेकर नहीं गए थे। जिसके बाद माता-पिता की इसी बात से नाराज होकर 9 वर्षीय बच्ची ने कमरे के अंदर जाकर दुपट्टे से कुंडी के ऊपर फांसी का फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली घर के बाहर खेल रहा मासूम जब घर पहुंचा तो घर का दरवाजा अंदर से बंद मिला जिसके बाद ललित ने दीवार कूदकर घर के पहुंचा जिसके बाद कुर्सी लगाकर घर पर लगे जंगले के अंदर झांक कर देखा तो 9 साल की बेबो ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली ललित के शोर मचाने के बाद मौके पर पहुंचे मोहल्ले के लोगों ने दरवाजा तोड़कर बेबो के शव को फांसी के फंदे से उतारकर बाहर निकाला। जिसके बाद 9 वर्षीय बेटी के इस कदम के बाद पूरे परिवार के अंदर कोहराम मचा गया।

दरअसल अलीगढ़ के थाना बन्नादेवी इलाके के नलकूप कॉलोनी के रहने वाले सुभाष उसकी पत्नी ज्योति के साथ दो बेटे और एक बेटी नलकूप कॉलोनी के सर्वेंट क्वार्टर मैं परिवार सहित रहते हैं वहीं 9 वर्षीय बेटी बेबो उस वक्त अपने माता-पिता के साथ जाने की जिद करने लगी जब उसके माता-पिता किराए का कमरा देखने के लिए घर से बाहर जा रहे थे उसी दौरान 9 वर्षीय बेटी बेबो अपने माता पिता के साथ जाने की जिद करने लगी जहां माता-पिता ने बेटी को समझाने के बाद अपने साथ ना ले जाने से इंकार करते हुए बेटी को घर पर रहने के लिए कहा गया था इसी बात से नाराज होकर 9 वर्षीय बेटी ने कमरे के अंदर लगी कुंडी पर दुपट्टे से फांसी का फंदा बनाकर फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली

जहां माता-पिता द्वारा किराए का कमरा देखने जाने के बाद जब ललित की 9 वर्षीय बहन बेबो जब रो रही थी उसी दौरान भाई ललित ने अपनी बहन बेबो को चुप करते हुए घर पर टीवी पर पिक्चर देखने की बात कहते हुए अपने साथ घर ले गया लेकिन उसके थोड़ी देर बाद ही 9 वर्षीय युवती के भाई ललित को पड़ोस के ही रहने वाले लड़कों ने खेलने के लिए घर से बाहर बुला लिया जब ललित खेलने के बाद अपने घर पहुंचा तो घर का दरवाजा अंदर से बंद मिला जिसके बाद काफी देर तक ललित ने दरवाजे को खट खटाते हुए अपनी बहन बेबो से दरवाजा खोलने के लिए कहा लेकिन जब दरवाजा नहीं खुला तो उसके बाद ललित दीवार कूदकर घर के अंदर पहुंचा तो कुर्सी लगाकर घर के अंदर लगी खिड़की से झांका तो बेबो ने पिंक कलर के दुपट्टे से घर के अंदर लगी कुंडी पर फांसी लगा रखी थी और स्टूल गिरा हुआ था जिसके बाद पड़ोस के रहने वाले दो लोगों ने घर का दरवाजा तोड़कर फांसी के फंदे से 9 साल की बेबो को नीचे उतारा गया जहां घटना की सूचना मिलते ही बन्नादेवी पुलिस मौके पर पहुंच गई पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है परिवार के अंदर हुई इस अचानक घटना के बाद मृतका के परिजनों का रो रो कर बुरा हाल है



घटना की जानकारी देते हुए क्षेत्राधिकारी  द्वितीय राघवेंद्र सिंह ने बताया कि एक 9 साल की बच्ची द्वारा फांसी लगाकर आत्महत्या का मामला संज्ञान में आया है दुपट्टे को कब्जे में लेकर बच्ची के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा है वही आगे जो कोई भी वैधानिक कार्यवाही होगी की जाएगी


No comments