Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Classic Header

{fbt_classic_header}

Breaking News

latest

अलीगढ़ हैंडपंप के शिलालेख पर तिरंगे के साथ विदेशी ध्वज के लगाए चित्र,ग्रामीणों में आक्रोश, विदेशी चाल तो नहीं,जिला अधिकारी ने पूरे मामले को लेकर कुछ भी बोलने से किया इनकार

 उत्तर प्रदेश जनपद अलीगढ़ की तहसील कोल क्षेत्र के थाना अकराबाद इलाके के गांव खुर्रम पुर के अंदर हैंड पंप लगाने के बाद शिलालेख लगा दिए ...




 उत्तर प्रदेश जनपद अलीगढ़ की तहसील कोल क्षेत्र के थाना अकराबाद इलाके के गांव खुर्रम पुर के अंदर हैंड पंप लगाने के बाद शिलालेख लगा दिए गए जिस शिलालेख के ऊपर अरबी भाषा के अंदर विवरण लिखा गया जहां भारत के राष्ट्रीय ध्वज के अंदर 24 तीलियां होती हैं वहीं इस अरबी भाषा के अंदर बने चक्र में आठ तीलियां बनी हुई है जहां इस पूरे मामले पर अलीगढ़ के जिला अधिकारी से जब बात उनका पक्ष जानने की कोशिश की गई तो उन्होंने साफ तौर से कुछ भी बोलने से मना कर दिया गया

अलीगढ़ की तहसील कोल क्षेत्र के थाना अकराबाद  के कुछ गांवों के अंदर स्थाई रूप से चल रही गैर सरकारी संस्था ने बिना कोई अनुमति के गांव के अंदर हैंडपंप लगाने के बाद उसी स्थान पर शिलालेख भी लगवा दिया गया गया है। जो शिलालेख हेडपंप के पास लगा उसमें में दर्ज विवरण अरबी भाषा के अंदर मौजूद है। जहां तिरंगे के साथ कुवैत का ध्वज दर्शाया गया है। इसके अलावा हिंदुस्तान के राष्ट्रीय ध्वज के अंदर बने चक्र पर 24 तीलियां होती हैं लेकिन इसके बदले बनाए गए इस शिलालेख में कुवैत देश के ध्वज के बीचो बीच आठ तीलियां दर्शाई गई है जहां गांव के अंदर लगे शिलालेख को देखने के बाद खुर्रामपुर गांव के लोगों में आक्रोश भी व्याप्त है। हेड पंप के पास लगे शिलालेख के बाद आसपास के लोगों में भी अफवाहों का बाजार गर्म है। वही लोगों ने अरबी भाषा में लिखे गए शिलालेख को लेकर छर्रा विधानसभा सीट से भाजपा विधायक गांव वालों ने शिकायत भी की है

इस पूरे मामले पर अलीगढ़ के छर्रा विधानसभा सीट से भाजपा विधायक पत्र लिखते हुए अलीगढ़ जिला अधिकारी चंद्र भूषण सिंह से  मामले की गंभीरता को देखते हुए शिकायत की गई है जिस मामले क्षेत्रीय विधानसभा के गांव के लोगों द्वारा शिकायत की गई थी कि उनके गांव के अंदर किसी विशेष व्यक्ति द्वारा विशेष समुदाय के नाम से क्षेत्र अकराबाद के खुर्रमपुर के पास स्थित गांव दुबया व कुछ अन्य गांवों में हैंडपंप 'नंबर 4 मशीन' लगाई गई है। जहां हेडपंप लगाने के बाद उस स्थान पर एक पत्थर/हैंडपंप के साथ एक शिलालेख लगाया गया है जिस शिलालेख पर अरबी भाषा के अंदर विवरण दिया गया है तो वहीं एक तरफ भारत का ध्वज बनाया गया है उसके एक तरफ अन्य खाड़ी देश कुवैत का ध्वज अंकित है। जहां भारत के तिरंगे ध्वज के चक्र में मात्र आठ तीलियां दर्शाई गई है जो कि अपने आप में भारतीय ध्वज संहिता का उल्लंघन है

राष्ट्रीय ध्वज के चक्र में 24 के बदले सिर्फ आठ तीलियां हैं, जो भारतीय ध्वज संहिता का उल्लंघन है। शिलालेख पर अरबी में विवरण लिखा है। छर्रा विधानसभा क्षेत्र के विधायक ठाकुर रवेंद्रपाल सिंह को ग्रामीणों ने शिकायत की थी।विधायक नेजिलाधिकारी से इस मामले की शिकायत की है। रवेंद्र पाल सिंह ने पत्र लिखते हुए शिकायत की जानकारी की गई तो पता चला कि विकासखंड अकराबाद के गांव खुर्रामपुर के अंदर भोलू नामक मुस्लिम व्यक्ति के द्वारा गांव के अंदर यह हैंडपंप लगवाए जा रहे हैं इसके बाद जब विशेष समुदाय से ताल्लुक रखने वाले व्यक्ति से इस पूरे मामले पर जानकारी की गई तो हेड पंप लगवाने वाला व्यक्ति संतोषजनक जवाब नहीं दे पाया और ना ही किसी प्रकार की किसी भी सरकारी विभाग से हेड पंप लगवाने के लिए अनुमति भी नहीं ली गई

वहीं इस पूरे मामले पर संबंधित विकासखंड के विकास खंड अधिकारी से जानकारी की गई तो उनके द्वारा बताया गया कि ऐसी हमारे द्वारा कोई अनुमति किसी व्यक्ति अथवा संस्था को नहीं दी गई है और ना ही किसी भी प्रकार की ऐसी कोई जानकारी विकास खंड अधिकारी को नहीं है

 रवेंद्रपाल सिंह का कहना है कि विदेशी ध्वज लगाने एवं राष्ट्रीय ध्वज के अपमान से गांव के लोगों में काफी आक्रोश है। स्थानीय लोग उक्त कार्य एवं आशंका जता रहे हैं कि कहीं यह कोई विदेशी चाल तो नहीं है। जहां भाजपा विधायक ठाकुर रवेंद्र पाल सिंह ने अपने पत्र के अंदर लिखा है कि इस गंभीर प्रकरण को लेकर अलीगढ़  के जिलाधिकारी चंद्रभूषण सिंह ने शिकायत का संज्ञान लेते हुए के मामले की गंभीरता से जांच की जाए कि यह कोई विदेशी चाल तो नहीं है


No comments