Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Classic Header

{fbt_classic_header}

Breaking News

latest

काले कानूनों के खिलाफ किसानों ने भरी हुंकार।

इटावा 25 सितम्बर। अ0भा0 किसान संघर्ष समिति द्वारा किसान विरोधीे काले कानूनो को रदद करने के लिये देशव्यापी प्रतिरोध में इटावा नई मन्डी मे...


इटावा 25 सितम्बर। अ0भा0 किसान संघर्ष समिति द्वारा किसान विरोधीे काले कानूनो को रदद करने के लिये देशव्यापी प्रतिरोध में इटावा नई मन्डी में आन्दोलन के दौरान पुलिस से झडप हो गई एस.डी.एम सदर, एस.पी सिटी के हस्तक्षेप से मामला शान्त हुआ। ताखा तहसील में पुतला दहन को लेकर पुलिस व प्रदर्शनकारियों में तनातनी हुई। जिले में कई जगह पुतला दहन, रास्ता रोको व धरना प्रदर्शन आयोजित किये गये। प्रतिरोध को माकपा, कांगे्रस, किसान यूनियन का भी समर्थन मिला। राष्ट्रपति को ज्ञापन प्रेषित करते हुये बिलों पर हस्ताक्षर न कर संसद को पुर्नविचार हेतु लौटाने का अनुरोध किया गया।
उ0प्र0 किसान के महामंत्री मुकुटंिसह ने इन्हें काले कानूनों की संज्ञा देते हुये कडी आलोचना करते हुये कहा कि इनसे खेती किसानी, मंडियाॅ, समर्थन मूल्य, सरकारी खरीद, देश की खाद्यान्न सुरक्षा का सर्वनाश हो जायेगा। ठेका खेती की आड में खेती को कारपोरेटस के हवाले कर दिया जायेगा। जमाखेारी, कालाबाजारी, महंगाई से देश के सामने खाने का संकट खडा हो जायेगा। प्रधानमंत्री के आश्वासन कोरे और झूठे हैं, जिन पर किसानों को भरोसा नहीं है। सडकों पर संयुक्त आन्दोलन ही एक मात्र रास्ता बचा है।
आन्दोलन की अध्यक्षता नई मन्डी के संरक्षक शिवनाथंिसंह यादव “मामा“ ने की। काग्रेस के जिलाध्यक्ष मलखानंिसह यादव, शिवनाथ सिंह यादव, राष्ट्रीय अध्यक्ष मण्डी कर्मचारी कल्याण संघ, किसान यूनियन के जिलाध्यक्ष संजीव, किसान मंत्री संजेश कुमार, सीटू नेता अमरंिसह शाक्य, माकपा नेता प्रेमशंकर यादव, व्यापार मंडल के महामंत्री सतीश यादव, ओविन्द, रमेश यादव आढती, पल्लवदुवे, राशिद खान, आरपींिसहपाल, अटलबिहारी जिला संयोजक शोषण मुक्ति मोर्चा, संतोष राजपूत, इन्द्रपालंिसह आदि ने समर्थन और संबोधन किया। संचालन किसान सभा के जिलामंत्री संतोष शाक्य ने किया। एसडीएम सदर, अतिरिक्त एसडीएम, एसपी सिटी, सीओ सिटी सहित भारी पुलिस काफिले के साथ मौके पर आकर ज्ञापन ग्रहण किया गया।




No comments