Skip to main content

समाजवादी पार्टी का धरना प्रदर्शन और ज्ञापन।




PLACE-AMETHI

REPORT -दिलीप यादव

 भारत सरकार के द्वारा किसानों के लिए बनाए गए विधेयक को लेकर पूरे देश में घमासान मचा हुआ है इसका विरोध संसद से शुरू हुआ अब सड़कों पर आ चुका है उत्तर प्रदेश में कांग्रेस और समाजवादी पार्टी के द्वारा विशेष रूप से किस को मुद्दा बनाया जा रहा है क्योंकि कहीं ना कहीं आगामी 2022 के विधानसभा चुनाव के दृष्टिगत चुनावी रणनीति स्पष्ट रूप से दिखाई पड़ रही है इसी मुद्दे को लेकर विशेष रूप से समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय नेतृत्व  के द्वारा आह्वान किए जाने के बाद आज सामाजिक दूरी का पालन करते हुए जिलाध्यक्ष छोटे लाल यादव की अगुवाई में सपा कार्यकर्ताओं नेताओं सड़क पर धरना प्रदर्शन करते हुए अमेठी जनपद मुख्यालय गौरीगंज के कलेक्ट्रेट पहुंचे जहां पर उन्होंने महामहिम राज्यपाल को संबोधित  ज्ञापन जिला अधिकारी अमेठी के माध्यम से  भेजने के लिए गौरीगंज तहसील के उपजिलाधिकारी सुजीत कुमार मौर्य को सौंपा।

वीओ - इस मौके पर अमेठी समाजवादी पार्टी के जिलाध्यक्ष छोटे लाल यादव ने बताया कि किसान और मजदूर के विरोध में भाजपा सरकार जो विद्यार्थी लाई है उसी के विरोध में तथा विधेयक को वापस करने के लिए ज्ञापन दिया गया विशेष रूप से उस कानून को उत्तर प्रदेश में ना लगाया जाए मजदूरों तथा किसानों के हित में समाजवादी पार्टी ने हमेशा सड़क पर उतरने का काम किया है तथा इस ज्ञापन के माध्यम से हम भाजपा सरकार का विरोध करते हैं और मांग करते हैं कि यह काला कानून ना लाया जाए बीजेपी का एक छलावा है उनके सारे वादे झूठे हैं उन्होंने अभी तक एक भी वादा नहीं पूरा किया है हमारे सभी किसान रात भर जाग कर आवारा पशुओं को रोकने का काम कर रहे हैं हमारे जो मजदूर पलायन होकर आए हैं उनको रोजी-रोटी नहीं मिल रही है एक सर्वे के मुताबिक 40 लाख नौकरियों की आवश्यकता उत्तर प्रदेश में है हमारे जो बाहर से 14. 62 लाख मजदूर जो बाहर से आए हुए हैं वह बेरोजगार बैठे हुए हैं उनको नौकरी नहीं दी जा रही है लेकिन बीच में काला कानून लाकर फैक्ट्री मालिकों को और कारपोरेट घरानों को फायदा देने के लिए यह कानून लाया जा रहा है सरकारी अब नहीं झुकती है तो हम लोग सड़क पर उतरेंगे और संघर्ष करेंगे समाजवादी पार्टी संघर्ष की पार्टी है वह रातों दिन संघर्ष के लिए तैयार है हमारे राष्ट्रीय अध्यक्ष का जो भी आदेश होगा उसको हम लोग करने के लिए हमेशा तत्पर हैं समाजवादी पार्टी का एक-एक कार्यकर्ता किसान के लिए मजदूर के लिए मरने तथा अपना खून बहाने के लिए तैयार।




Comments

Popular posts from this blog

रिजवान की मौत में आया नया मोड फैमिली डाक्टर अब्दुल हकीम ने बताया

टांडा कोतवाली क्षेत्र में रिजवान की मौत में आया नया मोड फैमिली डाक्टर अब्दुल हकीम ने बताया की 18अप्रैल को रिजवान की फुफी ने बताया की बाइक से गिरने से लगी है चोट जिसकी जिला अस्पताल में इलाज के दौरान  संदिग्ध  परिस्थितियों  में  हुई  22 वर्षीय युवक  के   मृत्यु  के   मामले  में मृतक के  पिता ने पुलिस की पिटाई के कारण मृत्यु होना बता कर पुलिस के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने की तहरीर दिया है। 

मौके का पुलिस अधीक्षक आलोक प्रियदर्शीएवं अपर पुलिस अधीक्षक अवनीश कुमार मिश्र ने निरीक्षण कर  जांचोपरांत कार्यवाही का आश्वासन दिया। पुलिस ने जहाँ पुलिस द्वारा  मारना पीटना बताया गया है ।उस घटनास्थल के आस पास लगे सीसी कैमरे  के फुटेज का निरीक्षण किया ।जिसमें किसी भी प्रकार की मार पीट की घटना दिखाई नही दे रही है । बैरहाल पुलिस हर बिंदुओं पर जांच कर रही है। शव का पोस्टमार्टम होने के बाद सुरक्षा व्यवस्था के बीच शव को मृतक के परिजनों को सौंप दिया गया। जिसके बाद बाद नमाज मगरिब शव को सलार गढ़ कब्रिस्तान में सुपुर्द ए खाक कर दिया गया। प्रशासन द्वारा सुपुर्द ए खाक में सीमित ही लोगों को जाने की अनुमति दी गई। इस मौके …

टाण्डा तहसील के शहर के नेहरू नगर मे 5 साल की बच्ची तृषा की रिपोर्ट आई पाज़िटिव

टाण्डा तहसील के नेहरू नगर में एक 5 साल की बच्ची तृषा पुत्री दिनेश कनौजिया करोना पाज़िटिव आई है। यह लोग मुंबई से चलकर इलाहाबाद आए थे ट्रेन से ।वहां से बस के द्वारा अकबरपुर आए थे। बच्ची को बुखार था प्राथमिक की स्क्रीनिंग में बच्चे को वहीं पर कोरंटाइन करा दिया गया था यह लोग 24 तारीख को यहां पर आए थे मौके पर टाण्डा एसडीएम अभिषेक पाठक व टाण्डा सीओ अमर बहादुर पहुंच कर एरिया को किया सील और लोगों से दूरी बनाने की अपील किया उसके बाद सीलिंग की कार्रवाई प्रारंभ होगी




यूपी के टॉप मोस्ट अपराधियों की बनाई गई लिस्ट

यूपी के टॉप मोस्ट अपराधियों की बनाई गई लिस्ट.

डीजीपी मुख्यालय ने बनाई 33 टॉप मोस्ट अपराधियों की लिस्ट.
लिस्ट में मुख्तार अंसारी, अतीक अहमद, ब्रजेश सिंह समेत 33 अपराधियों के नाम.

उत्तर प्रदेश में फिर शुरू होगा ऑपरेशन  क्लीन