Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Classic Header

{fbt_classic_header}

Breaking News

latest

अमेठी जिले के तिलोई तहसील अंतर्गत फुरसतगंज स्थित इंदिरा गाँधी राष्ट्रीय उड़ान अकादमी के एक हवाई जहाज़ के क्रैश से सम्बंधित जानकारी

ये एक 4 सीटर TB 20 जहाज़ था जिसे ट्रेनी पायलट कोणार्क सरन (उम्र 21 वर्ष) उड़ा रहे थे। जहाज़ ने सुबह लगभग 10.30 पर फुरसतगंज स्थित उड्डयन ...



ये एक 4 सीटर TB 20 जहाज़ था जिसे ट्रेनी पायलट कोणार्क सरन (उम्र 21 वर्ष) उड़ा रहे थे।

जहाज़ ने सुबह लगभग 10.30 पर फुरसतगंज स्थित उड्डयन एकेडमी से उड़ान भरी और लगभग 11.30 बजे दुर्घटना की सूचना प्राप्त हुई।

घटनास्थल - ज़िला आज़मगढ़ में मीर सराय थाना क्षेत्र में एक गाँव के समीप।

मृतक ट्रेनी पायलट हरियाणा के पलवल जिले का निवासी था। यहाँ इन्होंने ने 125 घण्टे की ट्रेनिंग पूरी कर ली थी । जिसमे से 52 घण्टे सोलो (अकेले) जहाज़ उड़ाने का तजुर्बा प्राप्त कर चुके थे।

पायलट ट्रेनिंग कोर्स में 200 घण्टे जहाज़ पे प्रशिक्षण की आवश्यकता होती है । जिसमे से कोणार्क सरन ने 125 घण्टे पूर्ण कर लिए थे।

प्रथम दृष्टया प्राप्त जानकारी के अनुसार, दुर्घटना का कारण ख़राब मौसमबताया जा रहा है।

जहाज़ CB clouds में फंस गया था। जो कि काफ़ी घने और बिजली से भरे होते हैं।

कोणार्क सरन बेहद काबिल प्रशिक्षु थे और उनका अभी तक का प्रशिक्षण रिकॉर्ड काफ़ी अच्छा था। साथ ही जिस जहाज़ (TB 20) को वो उड़ा रहे थे, वो पूर्ण रूप से सुरक्षित एवं विश्वसनीय था। TB 20 जहाज़ को दुनिया भर में ट्रेनिंग के लिए एक आदर्श विमान माना जाता है।


इंदिरा गाँधी राष्ट्रीय उड़ान अकादमी में वायुयानों का रखरखाव तथा उड़ान प्रशिक्षण देश के सभी मानकों के अनुकूल होता है।

मौसम की ख़राबी के कारण हुई दुर्घटना से संस्थान में शोक व्याप्त है।




No comments